जमीन न होते हुए भी कागज में बना प्रधानमंत्री आवास,और तीन क़िस्त भी डाली,फर्जीवाड़े की नयी दास्तान

तखतपुर(टेकचंद कारड़ा)।पार्षद की बहू के नाम जमींन नही होने के बाद भी प्रधानमंत्री आवास के तहत मकान स्वीकृत हो गया और तीन किश्त की राशि भी जारी हो गई है। वहीं इधर नगरपालिका क्षेत्र में कई लोग ऐसे भी है जिनके नाम जमींन है और लगभग अपना मकान पूर्ण कराने की स्थिति में है वे किश्त जारी करने के लिए नगरपालिका के चक्कर काट काट कर थक चुके है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे

नगरपालिका क्षेत्र तखतपुर में इन दिनों प्रधानमंत्री आवास के हितग्राही अपने भवन निर्माण के लिए राशि जारी कराने के लिए रोज चक्कर काट रहे है परंतु उन्हें केवल आश्वासन ही मिल रहा है कई हितग्राही ऐसे है जो इस विश्वास के साथ अपना मकान तोड चुके है कि बहुत जल्दी उन्हें आशियाना मिल जाएगा और इसके कारण बाहर मकान किराए पर लेकर गुजर बसर कर रहे है।

मकान तो तोड दिए लेकिन कभी लेट आउट के लिए तो कभी जीओं टेक के लिए चक्कर काटते है लेकिन आज कल कहकर उनकी बात टाल दी जाती है और इधर बरसात का मौसम आने वाला है यह सोचकर वह परेशान हो गए है। इधर नगरपालिका वार्ड क्रमांक 10 में एक ऐसा भी मामला आया है जिस हितग्राही के पास जमींन ही नही है उन्हें नगरपालिका की ओर से आंख मुंदकर धडाधड मकान निर्माण के लिए 3 किश्त की राशि 1 लाख 65 हजार 750 रूपए जारी कर दिया गया है। यह वाक्या है।

वार्ड क्रमांक 10 का जहां की पार्षद रामप्यारी देवांगन की बहू रेवती बाई देवांगन पति कैलाश देवांगन का है जिसके नाम पर एक फीट की जमींन नही है और इनके नाम प्रधानमंत्री आवास के तहत मकान भी स्वीकृत हो गया है अब यहां पर किस आधार पर इनका मकान स्वीकृंत हुआ और कैसे बिना सत्यापन और जांच के नगरपालिका की ओर से राशि भी जारी कर दिया गया है यह चर्चा वार्ड में जोरो पर है।

वार्डवासीयों का कहना है कि हम पिछले छ: माह से नगरपालिका का चक्कर काट काट कर थक गए है मकान भी किसी का डोर लेबल किसी का छत स्तर तक हो गया है लेकिन एक किश्त की राशि दिया गया है या किसी को दो किश्त की। कई हितग्राही ऐसे भी है जिन्हें एक भी किश्त नही दिया गया है परंतु पार्षद बहू जिनके नाम जमींन नही है उन्हें कैसे मकान बनाने के लिए राशि दिया गया है यह आश्चर्य की बात है।

तीन किश्त जारी – इस फर्जीवाडे में पार्षद और अधिकारीयों ने मिली भगत कर पार्षद रामप्यारी देवागन की बहू रेवती बाई देवांगन पति कैलाश देवांगन के स्टेट बैंक तखतपुर के खाता क्रमांक 34778452553 में चेक के माध्यम से 23 फरवरी को 55250 रूपए दूसरा किश्त 19 मार्च 55250 तथा तीसरे किश्त 6 मई को 55250 कुल 1 लाख 65 हजार 750 रूपए जारी कर दिया गया है और इसमें सभी का खेल भी हो गया है।

कागज में सत्यापन- प्रधानमंत्री आवास के तहत जिस भी हितग्राही का मकान स्वीकृत होता है उसका पहले स्थल पर जाकर नगरपालिका की ओर से कर्मचारी सत्यापन करते है उसके बाद प्रक्रिया आगे बढती है फिर भी हितग्राही मकान निर्माण के लिए नींव खोदाई प्रांरभ करता है जिसमें नगरपालिका के आवास के प्रभारी जाकर जगह में कार्य प्रांरभ हुआ है।उसका जीओं टेक कर संबंधित आवास प्रभारी इंजीनियर फिर सीएमओं नोटशीट में हस्ताक्षकर कर सीए को अग्रसित करता है तब कहीं जाकर मकान निर्माण की राशि जारी की जाती है अब यहां पर हितग्राही के नाम जमींन है निर्माण कार्य प्रांरभ हो गया है यह सब इन जांचकर्ताओं ने कैसे जांच किया और किस तरह से फर्जी अपडेट किया यह एक जांच कर विषय है। जब स्टेप बाई स्टेप जांच किया जाता है तो फिर आंख मुंदकर फिर क्यों राशि बिना जमींन और बिना निर्माण कार्य किए बिना जारी किया गया ।

हर बार गलत सत्यापन- पार्षद रामप्यारी देवांगन की बहू रेवती बाई देवांगन के नाम जब जमींन सत्यापन करने के लिए नगरपालिका के जवाबदार और संबंधित अधिकारी कर्मचारी पहुंचे तो राशि हडपने की नियत से हर बार फर्जी सत्यापन कराया गया कभी जहां पर खाली जमींन था उसे दिखाया गया तो कभी जहां पर मकान निर्माण प्रांरभ है उस जगह को दिखाया गया। इस तरह नगरपालिका के जीओं टेक करने वाले कर्मचारी दिलेश्वर सिंह एवं कैमरामेन किशन ठाकुर तथा अन्य जवाबदार अधिकारी कर्मचारी तथा पार्षद ने सेटिंग कर फर्जी तरह से राशि हडप लिया।

नगरपालिका की ओर से तीन किश्त में 1 लाख 65 हजार 750 रूपए की राशि जारी की गई है जिसे वापस कर दिया जाएगा। रामप्यारी देवांगन,पार्षद,वार्ड क्रमांक 10,नगरपालिका तखतपुर।

नगरपालिका क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास के तहत अधिकारीयों के संरक्षण में हो रहे फर्जीवाडे की शिकायत कई बार किया गया है और अब तो पार्षद के बहू के नाम पर राशि जारी कर इस फर्जीवार्ड को सत्यापन भी कर दिया गया है। हम तत्काल कार्यवाही करने की मांग कर रहे है और नही करने पर उग्र आंदोलन किया जाएगा। ईश्वर देवांगन,नेता प्रतिपक्ष, नगरपालिका परिषद ,तखतपुर।

पार्षद की बहू के नाम बिना जमींन और बिना मकान बने यदि राशि जारी कर दिया गया है तो तत्काल इनसे राशि वसुली जारी कर फर्जी तरह से शासकीय राशि के गबन करने के मामले दर्ज किए जाऐंगे वहीं किस तरह से इंजीनियर और शाखा प्रभारी के द्वारा यह नोटशीट आगे बढाई गई उनके खिलाफ भी शख्त कार्यवाही की जाएगी। प्रहलाद पाण्डेय,सीएमओं नगरपालिका तखतपुर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *