युवा कांग्रेस अध्यक्ष कोको पाढ़ी ने कहा-मेरे खिलाफ हुई साजिश..पुलिस कर रही जांच..दिल्ली में कौन नहीं जानता

बिलासपुर— प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष पूर्णचन्द्र कोको पाढ़ी का आज कोरबा से रायपुर प्रवास के समय बिलासपुर में जगह जगह आतिशी स्वागत किया गया। बिलासपुर के युवा कांग्रेसियों ने नगर प्रवेश करते ही कोकोपाढ़ी का फूल माला के साथ आतिशी स्वागत हुआ। कांग्रेस भवन पहुंचने के बाद कोकोपाढ़ी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करने से पहले पत्रकारों से बातचीत की। उन्होने बताया कि युवा कांग्रेस में किसी प्रकार की गुटबाजी नहीं है। कांग्रेस में लोकतंत्र मजबूत है। राहुल गांधी या कर्मा के वाट्सअप पर किसी प्रकार की टिप्पणी नहीं किया हूूं। सब फेक चैटिंग है। ऐसा करने का सवाल ही नहीं उठता है। पुलिस जांच कर रही है। जल्द ही मामला सामने आ जाएगा। दरअसल मेरे खिलाफ साजिश हुई है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

                            युवा कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष का बिलासपुर आगमन पर भव्य स्वागत किया गया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करने से पहले कोकोपाढ़ी ने पत्रकारों से बातचीत की। उन्होने बताया कि मंत्री बनने के बाद उमेश पटेल की व्यस्तता बढ़ गयी है। उनकी सलाह पर संगठन ने मुझे कार्यकारी अध्यक्ष बनाया। इस समय प्रदेश के एक जिलों के दौरे पर हूं। प्रदेश के दस हजार से अधिक ग्राम क्षेत्र से लेकर शहरी स्तर पर कांग्रेस संगठन को मजबूत बनाने का रोडमैप तैयार किया जा रहा है।

                 एक सवाल के जवाब में कोकोपाढी ने बताया कि युवा कांग्रेस में दमखम नहीं होने का सवाल ही नहीं उठता है। विधानसभा चुनाव में युवाओं ने भरपूर मेहनत किया। सफलता भी मिली। लोकसभा चुनाव में फिर युवा कांग्रेस कार्यकर्ता कहां थे। सवाल के जवाब में कोकापाढ़ी ने बताया कि युवा नेताओ ने मेहनत की है। परिणाम भी अच्छा रहा। एक बार फिर संगठन को रिचार्ज करने का प्रयास किया जा रहा है। ग्राम स्तर से लेकर शहर स्तर तक पदाधिकारियों की नियुक्ति होगी। किसी नेता के आगे पीछे मंडराने वाले को पद नहीं दिया जाएगा। जो काम करेगा उसे मौका मिलेगा। कार्यकर्ताओं को ताकत देंगे। निकाय चुनाव में कांग्रेस को सफलता मिलेगी।

                      आपने चुनाव नहीं लड़ा..फिर भी अध्यक्ष बन गए..क्या राहुल गांधी ने अध्यक्ष या अन्य पदाधिकारियों के लिए चुनाव नहीं कराने का फैसला किया है। कोकोपाढ़ी ने सीधे जवाब देने के वजाय बताया कि मैने भी चुनावन लड़ा है। लोकसभा ,विधानसभा अध्यक्ष बना हूं। 33 हजार लोगों को पार्टी से जोड़ा हूं। उमेश पटेल के मंत्री बनने के बाद उनकी व्यस्तता बढ़ गयी। मैं राष्ट्रीय पदाधिकारी था। कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया…अब कार्यकर्ताओं के बीच में हूं।

            आखिर अध्यक्ष बनने के बाद विरोध क्यों शुरू हो गया है। प्रदेश के जिम्मेदार युवा पदाधिकारी दिल्ली में बैठकर विरोध कर रहे हैं। कोकापाढ़ी ने कहा कि मुझे नहीं मालूम कौन विरोध कर रहा है। नाम बताएंगे तो जानकारी होगी। बार बार दुहराते रहे कि कहीं कोई विरोध नहीं कर रहा है। दिल्ली मैं भी आता जाता हूं। दिल्ली जाने का यह अर्थ नहीं कि कोई विरोध कर रहा है। यदि किसी को मेरे अध्यक्ष बनने से नाराजगी है तो वह अपनी बातों को पार्टी में रख सकता है। लेकिन इतना दावा कर सकता हूं कि पार्टी में गुटबाजी नहीं है।

                        आपने राहुल गांधी और कर्मा के खिलाफ गंभीर आरोप के साथ चैटिंग की है। कोकोपाढी ने बताया कि यह सरासर गलत है। किसी ने मेरे खिलाफ साजिश की है। मैने चैटिंग की ही नहीं। शिकायत पुुलिस मे हुई है। जांच के बाद मामला साफ हो जाएगा। यदि मैं गंदे चैटिंग किया होता तो आज जेल में होता। पार्टी से भी निष्कासित कर दिया गया होता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *