कांग्रेस नेता पंकज सिंह के साथ रेलवे स्टेशन में हुई मारपीट पर भड़के विधायक शैलेश पांडे, ड्रॉप एंड गो सिस्टम का ठेका रद्द करने की मांग

बिलासपुर।बिलासपुर विधायक शैलेश पांडे ने आज प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव पंकज सिंह के साथ रेलवे स्टेशन में ठेकेदार द्वारा मारपीट की घटना को लेकर जीआरपी एवं रेल प्रशासन पर आक्रोश जताते हुए जीआरपी के दोषी जवानों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। आज दोपहर विधायक शैलेश पांडेय प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव पंकज सिंह को लेकर डीआरएम से मुलाकात की। उन्होंने मंडल रेल प्रबंधक से कहा है कि रेलवे स्टेशन में ड्रॉप एंड गो सिस्टम का ठेका निरस्त किया जाए ।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

साथ ही पुलिस अधीक्षक रेल प्रशासन को पत्र लिखकर विधायक ने कहा है कि कांग्रेस नेता पंकज सिंह के साथ मारपीट करने वाले जीआरपी के जवान दिलीप गुप्ता केशव लहरें तत्काल निलंबन की कार्रवाई करते हुए अपराध दर्ज किया जाए।

विधायक पांडेय ने कहा है कि बीती रात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव पंकज सिंह अपने रिश्तेदार के साथ रेलवे स्टेशन गए थे। उनकी कार में उनकी मां और बच्चे भी मौजूद थे। रात 12:00 बजे गेट नंबर 3 के पास ड्रॉप एंड गो की व्यवस्था है लेकिन ठेकेदार द्वारा जबरिया वसूली की जा रही थी।जिसका पंकज सिंह ने विरोध किया लेकिन ठेकेदार के आदमियों ने ₹25 की मांग की और जो रसीद पंकज सिंह को ठेकेदार के आदमियों ने दी वह फर्जी थी।

इस मामले को लेकर जब पंकज सिंह ने फर्जी पर्ची काटने की जानकारी मांगी तो ठेकेदार के आदमी पंकज के साथ मारपीट करने लगे तथा जान से मारने की धमकी दी। मारपीट करने वाले चार से पांच लोग थे।जिसमें जिसमें जीआरपी के सिपाही केशव लहरें, दिलीप गुप्ता तथा लक्ष्मण भी शामिल है। यह सभी नशे की हालत में पंकज के साथ मारपीट करते हुए उनके बाल खींच कर जबरिया जीआरपी थाने ले गए एवं धमकी देने लगे।

विधायक शैलेश पांडे आज दोपहर जब जीआरपी कार्यालय पहुंचे तो देखा कि थाने में अव्यवस्था का आलम है।कई फरियादी यहां बैठे थे कोई सुनने वाला नहीं था। थाना प्रभारी अपनी ही कुर्सी में सो रहे थे।विधायक ने नाराजगी जताई और पंकज सिंह के साथ मारपीट के मामले में जानकारी मांगी।

आज शैलेश पांडे ने जीआरपी के पुलिस अफसरों को पत्र लिखकर इस मामले में लिप्त पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।साथ ही डीआरएम से मुलाकात कर ठेकेदार का ठेका निरस्त करने का पक्ष रखा है।

विधायक ने यह भी कहा कि रेलवे स्टेशन में संभ्रांत परिवारों को लोग वाहनों में रिश्तेदार को छोड़ने जाते हैं लेकिन ड्रॉप एंड गो के नाम से जबरिया ठेकेदार पैसा वसूली करते हैं। पैसे नहीं देने पर परिवारों के साथ मारपीट की जाती है।

पंकज सिंह के साथ मारपीट की घटना को लेकर शहर विधायक शैलेश पांडेय ने कहा कि स्टेशन के बाहर तोरवा थाना क्षेत्र की सीमा है।लेकिन जीआरपी के जवान यहां मारपीट की घटना को अंजाम दिए। जिस जगह में स्टेशन के बाहर पंकज सिंह के साथ मारपीट की गई तोरवा थाना क्षेत्र आता है।जीआरपी को इस मामले में दखल नहीं देना चाहिए।क्या जीरपी के सिपाही ठेकेदार के गुंडे के रूप में क्या काम कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *