इंतजार में मुरझा गए फूल,नहीं आए मंत्री उमेश पटेल…नाराज कार्यकर्ताओं ने कहा-ठीक नहीं अपमान करना

बिलासपुर– खेल एवं युवा कल्याण, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल का शहर आगमन हुआ। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जगह जगह भव्य स्वागत किया। लेकिन कांग्रेस कार्यालय नहीं पहुंचने पर दर्जनों कांग्रेसियों ने नाराजगी भी जाहिर की। यद्यपि नेहरू चौक में प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अटल श्रीवास्तव, विधायक शैलेश पाण्डेय,शेख गफ्फार,शहजादी कुरैशी ने उमेश पटेल को फूल माला से अभिनन्दन किया। लेकिन कांग्रेस कार्यालय नहीं पहुंचने पर स्वागत से चूक गए कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने इसे अपना अपमान बताया।

                         खेल युवा एवं कल्याण, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल सब जूनियर राष्ट्रीय हाकी प्रतियोगिता के समापन कार्यक्रम में शामिल होने बिलासपुर पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने पटेल का जगह जगह आतिशी स्वागत किया। महाराणा प्रताप और नेहरू चौक में कांग्रेस नेताओं ने उमेश पटेल का अभिनन्दन किया। नेहरू चौक में स्वागत सत्कार के बाद महामंत्री अटल श्रीवास्तव, विधायक शैलेश पाण्डेय ने संक्षिप्त भाषण भी दिया।

                  इस दौरान अपने संक्षिप्त भाषण में उमेश पटेल ने कहा कि बिलासपुर हमारा संभागीय मुख्यालय है। खेल मंत्री होने के नाते बिलासपुर के हित में बेहतर और सार्थक कदम उठाउंगा। किसी भी खेल प्रेमी या खिलाड़ी को निराश होने की जरूरत नहीं है। बिलासपुर से मेरा और मेरे परिवार के साथ प्रदेश मुखिया का गहरा लगाव है। दावा करता हूं कि खेल के क्षेत्र में बिलासपुर का गर्व से नाम लिया जाएगा। उमेेश पटेल कार्यकर्ताओं और नेताओं के जोश पर खुशी भी जाहिर की।

नहीं आए कांग्रेस भवन

                          जब नेहरू चौक पर उमेश पटेल का स्वागत सत्कार किया जा रहा था। ठीक उसी समय कई कांग्रेसी कांग्रेस भवन में स्वागत के इंतजार में खड़े रहे। लेकिन मंत्री उमेश पटेल नेहरू चौक से कांग्रेस भवन आने की वजाय सीधे बहतराई स्टेडियम के लिए रवाना हो गए। मामले की जानकारी लगते ही कांग्रेस भवन में इंतजार कर रहे नेताओं और कार्यकर्ताओं ने जमकर नाराजगी जाहिर की। कई नेताओं ने कहा कि यदि मंत्री महोदय दो मिनट यदि कांग्रेस भवन आ जाते तो क्या बिगड़ जाता। जबकि हम लोग घंटो से स्वागत करने के लिए इंतजार कर रहे हैं। नाराज कई कांग्रेस नेता और कार्यकर्ताओं ने बताया कि उमेश पटेल के पिता पूर्व गृहमंत्री नन्दकुमार पटेल ने हमेशा कार्यकर्ताओं को तवज्जो दी है। लेकिन मंत्री ने हमें निराश किया है।

 मुरझा गए गुलदस्ता और माला के फूल

                        सेवादल कांग्रेस जिला अध्यक्ष अशोक शुक्ला ने बताया कि आज दो  मंत्रियों का बिलासपुर आना हुआ। समय कम होने कारण खेल मंत्री उमेश पटेल कांग्रेस भवन नहीं पहुंच सके। जहां तक मुझे जानकारी है कि उनका कांग्रेस भवन आने का प्लान था। एक अन्य कार्यकर्ता ने अपना नाम गंगाराम लास्कर बताया। कैमरा के सामने गंगाराम ने कहा कि उमेश पटेल जरूर आएंगे कैमरा से बाहर होते ही साथियों समेत नाराजगी करते हुए कहा कि हम मंत्री पटेल का स्वागत करना चाहते थे। लेकिन  अूपमानित होकर घर लौट रहे हैं। फूल  भी मुरझा गए हैं और माला भी बेकार हो गया है।

                         इस दौरान मौजूद अन्य लोगों ने कहा कि हम लोग कमजोर और गरीब कार्यकर्ता हैं। शायद इसलिए हमें दरकिनार दिया गया। बहुत समय तक कांग्रेस भवन में कई बड़े नेताओं ने  उमेश पटेल का इंतजार किया।  बाद में सभी लोग अपमानित महसूस कर लोग घर लौट गए। मंत्रीने हमारी भावनाओं को ठेस पहुंचाया है। नेहरू चौक से सीधे बहतराई स्टेडियम केलिए रवाना हो गए। जबकि नन्दकुमार पटेल तमाम व्यस्तताओं के बीच कार्यकर्ताओं को तवज्जो दिया करते थे। लेकिन यह बात उमेश पटेल में नहीं दिखाई दी। इस बात से भी इंकार नहीं किया सकता कि उनके करीबियों ने ही मंत्री को कांग्रेस भवन आने नही दिया हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *