मंथन में VIP सुरक्षा पर मंथन….जनप्रतिनिधियों से पुलिस कप्तान ने बताया…सबका ध्यान…लेकिन व्यस्था पहले

बिलासपुर—शुक्रवार को कलेक्टर कार्यालय स्थित मंथन सभागार में व्हीआईपी आमद के दौरान उत्पन्न होने वाली असहज स्थिति से निपटने को लेकर कांग्रेस नेताओं के साथ पुलिस कप्तान की खुलकर चर्चा हुई। बैठक में पुलिस कप्तान ने कहा कि व्हीआईपी आमद के दौरान जोश में व्यवस्था में थोड़ी बहुत ग़ड़बड़ी की स्थिति देखने को मिल जाती है। संभव है छोटी से गलती बड़ा स्वरूप ले ले। इसलिए सभी स्थानीय जनप्रतिनिधियों को व्यवस्था बनाने में सहयोग करना चाहिए।

                                 बैठक के बाद सीजीवाल से चर्चा के दौरान पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक में सामान्य चर्चा हुई है। अक्सर देखने में आया है कि कार्यकर्ताओं और जनता से मुलाकात के दौरान पुलिस व्यवस्था पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। यद्यपि सबका अपना काम होता है। इसमें पुलिस का भी एक काम है। व्हीआईपी को सुरक्षा के साथ प्रोटोकाल का पालन करना शामिल है। पत्रकारों को भी व्हीआईपी से बातचीत करना होता है। हम कोशिशों के बाद भी लोगों को रोक नहीं सकते हैं। लेकिन सुरक्षा को भी नजरअंदाज नहीं कर सकते है।

                 प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि आज बैठक में सुरक्षा के साथ लोगों की परेशानियों को लेकर चर्चा हुई। लोगों को व्हीआई से मिलने से लेकर सभी के  उम्मीदों को किस तरह पुरी की जाए। मुद्दे पर विस्तार से बातचीत हुई।

                               पुलिस कप्तान ने बताया कि कई मसलों पर चर्चा के बाद जनप्रतिनिधियो ने माना कि सुरक्षा के साथ लोगों की भावनाओं का ख्याल रखा जाए। पुलिस प्रशासन जनहित के साथ सुरक्षा में जो भी कदम उठाएगा उसका पालन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *