समूचे छत्तीसगढ़ के कांग्रेसी नाराज…कोण्डागांव में मरकाम.बिलासपुर में बोलर..ने की स्वामी के खिलाफ एफआईआर की मांग

बिलासपुर—ज़िला शहर और ग्रामीण कांग्रेस कमेटी ने  सिविल थाना पहुंचकर भाजपा राज्यसभा सांसद के खिलाफ लिखित शिकायत की है।  कांग्रेस नेताओ ने कहा कि सुब्रामण्यम स्वामी ने पार्टी के राष्ट्रीय नेता के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी कर छवि को धूमिल करने का प्रयास किया है। स्वामी को भारतीय दण्ड संहिता के धाराओं के तहत कठोर कार्रवाई की जाए। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कोण्डागाँव थाना पहुंचकर भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया है।
             स्वामी ने एक बार फिर बयान बाजी कर आग में घी डालने का काम किया है। मामला राहुल गांधी के खिलाफ अनर्गल बयान को लेकर है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कोण्डागांव थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराने के साथ सुब्रामण्यम स्वामी को गिरफ्तार करने की मांग की है। कोण्डागांव थाना के सामने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कार्यकर्ताओं के साथ स्वामी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की है।
सभी थानों में कराएंगे रिपोर्ट दर्ज
                                प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने स्वामी के बयान की निंदा करते हुए रविवार को कोंडागांव थाना एफआईआर लिखाने पहुंचे। मरकाम ने स्वामी के बयान की निंदा करते हुए कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता इस प्रकार के घटियापन को बर्दास्त नहीं करेंगे। बयान के विरोध में प्रदेश के सभी थानों में रिपोट दर्ज कराएंगे। मरकाम की मांग पर थाना प्रभारी ने भारतीय दण्ड संहिता के धारा 504/ 505 / 511- और अन्य धाराओं के तहत अपराधिक प्रकरण दर्ज कराया। जांजगीर जिला कांग्रेस ने भी स्वामी के खिलाफ खिलाफ थाने में शिकायत करते हुए एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग की है।
 बिलासपुर में भी रिपोर्ट दर्ज करने की मांग
           इधर बिलासपुर में नाराज कांग्रेस नेताओं ने कांग्रेस कमेटी के शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर की अगुवाई में प्रवक्ता ऋषि पांडेय,ज़िला महामंत्री अभिषेक सिंह,पार्षद रमाशंकर बघेल ,कार्यालय सचिव सुभाष ठाकुर ,प्रतीक सिंह ठाकुर ने सिविल थाना पहुंचकर भाजपा नेता के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की मांग की है।
                               सिविल लाइन थाने में लिखित शिकायत देकर कांग्रेस नेताओं ने कहा कि स्वामी ने राहुल गांधी के खिलाफ सुनियोचित आरोप लगाया है। अनर्गल, झूठे, और निंदा कारक बयान देकर जनता के बीच कांग्रेस और राष्ट्रिय अध्यक्ष की जानबूझ कर छबि खराब करने का प्रयास किया है। स्वामी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 504,505,511 के अलावा अन्य उचित धारा के तहत गिरफ्तारी की जाए।
           सिविल लाइन में सहायक उप निरीक्षक भरत राठौर ने कहा कि प्रकरण पर पत्थलगांव थाने में एफ़ आई आर हो चुकी है। आवेदन को बड़े अधिकारियो के पास भेज जाएगा। निर्देश के बाद सुनिश्चित तरीके से कार्रवाई की जाएगी।
                  शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर ने कहा कि भाजपा ने अपने सभी सांसद, विधायक,पदाधिकारी,कार्यकर्ताओ समेत आई टी सेल को एक मात्र काम दिया है। भाजपा का हमेशा से प्रयास रहा है कि कांग्रेस और उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष को बदनाम किया जाए। इसी कड़ी का एक हिस्सा सुब्रमण्य स्वामी का बयान भी है। सुब्रमण्यम स्वामी उच्च शिक्षित,सुप्रीम कोर्ट के नामी वकील है। उनकी हरकते एक रोड छाप,अशिक्षित ,और गैरजिम्मेदाराना है। स्वामी ने जिस भाषा के साथ राहुल गांधी को नशे का आदी कहा है…वह माफी योग्य नहीं है । सभी जानते है कि बड़बोले सुब्रमण्यम स्वामी मंत्रिमंडल में स्थान नही मिलने से नाराज हैं।
                              कांग्रेस नेताओं ने कहा कि स्वामी ऊल जुलूल बयान देकर नरेंद्र मोदी और आरएसएस को खुश रखना चाहते हैं। कांग्रेस ऐसे व्यक्तव्य का विरोध करती जो सामाजिक,राजनितिक शुचिता को दरकिनार कर केवल सत्ता पाने के लिए विरोधियो का चतित्र हनन करे। यदि स्वामी के खिलाफ क़ानूनी कार्यवाही नही की जाती है तो रणनीति बनाकर आंदोलन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *