स्थानीय लोगों ने बनाया नगर पंचायत को बंधक…जड़ दिया ताला….प्रशासन और पुलिस के सहयोग से मामला शांत

बिलासपुर— सिरगिट्टी नगर पंचायत में उस समय धमाल मच गया जब स्थानीय लोगों ने नाराजगी जाहिर करते हुए नगर पंचायत का मुख्य द्वार पर ताला जड़ दिया। जनता ने करीब दो घंटे तक नगर पंचायत कर्मचारियों को ताला जड़कर बंधक बनाकर रखा। मामले की जानकारी मिलते ही सिटी मजिस्ट्रेट अवध राम टण्डन सिरगिट्टी नगर पंचायत पहुंचे। लोगों के आक्रोस को कम किया। इसके पहले पुलिस ने ताला तोड़कर कर्मचारियों को जनता के आक्रोश से बचाया।
                   सिरगिट्टी नगर पंचायत की अफसरशाही और नेतागिरी से परेशान स्थानीय लोगों ने कार्यालय के सामने करीब तीन घंटे तक घेराव किया। मूलभूत समस्याओं समेत अन्य परेशाननियों को लेकर जमकर नारेबाजी की। नाराज जनता ने मुख्य दरवाजे पर ताला जड़ दिया। मामले की जानकारी लगते ही जिला प्रशासन की तरफ से सिटी मजिस्ट्रेट  अवध राम टण्डन मौके पर पहुंचे। लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया। आश्वासन भी दिया कि जनता की समस्याओं का निराकरण प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा ।
                            सिरगिट्टी नगर पंचायत के सामने धरना प्रदर्शन के दौरान आक्रोशित जनता ने बताया कि हम परेशानियों पर परेशानियां गिनाते हैं। लेकिन न तो अधिकारी सुनते हैं और न ही जनप्रतिनिधि ही ध्यान देते हैं। गर्मी के मौसम में पानी के लिए हम त्राहि त्राहि करते रहे…लेकिन प्रशासन के कान पर जूं तक नहीं रेंगा। हम पानी की एक एक बूंद के लिए मोहताज हो गए। गंदा पानी पीने को मजबूर हुए। लेकिन नगर पंचायत अधिकारी और नेताओं ने चेहरा पहचान कर पानी की सप्लाई की है। दरअसल यहां गरीबों को सुनने वाला कोई नहीं है।
             नाराज जनता ने बताया कि नगर पंचायत से हम लोगों ने पानी समस्या ही नहीं..बल्कि पट्टा वितरण को लेकर भी शिकायत की। लेकिन यहां कोई सुनने को तैयार ही नहीं है। यहां लेन देन के बाद पट्टा वितरण किया जा रहा है। पट्टा वितरण में जमकर धांधली हो रही है। रसूखदार लोग अपनी बात आसानी से मनवा लेते हैं। जिनके पास रूपाए या फिर रसूख नहीं हैं…उन्हें जमकर घुमाया जाता है। डांट कर भगा दिया जाता है। नियमों का हवला दिया जाता है।
                     नाराज ग्रामीणों के अनुसार हम लोग सड़क पानी बिजली को पारेशान हैं। सड़क की हालत बद से बदतर है। पानी की निकासी नहीं है। कई बस्तियां बरसात के चलते प्रभावित होंगी। बिजली की समस्या को दूर नहीं किया जा रहा है। तमाम प्रकार की परेशानियों को हम लोग रहे हैं। लेकिन कर्मचारी अपनी राग अलाप रहे हैं। हम लोगों ने फैसला किया कि जब नगर पंचायत को काम ही नहीं करना है तो ताला क्यों ना जड़ दिया जाए।
             वही नगर पंचायत कार्यालय घेराव और ताला जड़ने की जानकारी के बाद जिला प्रशासन के अधिकारी टण्डन मौके पर पहुंच गए। पुलिस के सहयोग से ताला को तु्ड़वाया। लोगों की समस्याओं को गंभीरता से सुना। आश्वासन दिया कि जल्द ही उनकी समस्याओं का निराकरण किया जाएगा। इस दौरान तीन घंटे तक प्रदर्शन चलता रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *