रायगढ़ में प्रदेश महामंत्री अटल ने कहा….गरीबों के साथ अन्याय…हाय लगेगी सरकार….जमकर साधा केन्द्र पर निशाना

रायगढ़…. हाय लगेगी सरकार…घमंड सबका टूटा है…आप गरीबी से उठकर प्रधानमंत्री तो बन गये..जैसे की आप बताते हैं…लेकिन आपके सभी कदम गरीबों को खून के आंसू रूलाने वाले साबित हो रहे हैं। घमंड सबका टूटा है…चाहे रावण हो या कंश…। फिर आप किस मिट्टी के बने हैं…जिस जनता ने विश्वास किया..वहीं जनता आपको कुर्सी से उतार फेंकेगी। यह बातें राय़गढ़ में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन के दौरान प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने आम जनता और कार्यकर्ताओं को अपने संबोधन में कही।

                                      प्रदेश कांग्रेस संगठन के निर्देश पर प्रदेश के सभी जिलों में एक साथ पांच बिन्दुओं को लेकर कांग्रेस नेताओं ने केन्द्रीय सरकार को निशाना बनाया। रायगढ़ में धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस महामंत्री ने योगी के साथ केन्द्र की मोदी सरकार को जमकर आड़े हाथ लिया। अटल श्रीवास्तव ने कहा…लोग भगवान बनने की भूल ना करें…क्योंकि लोग कहते हैं कि भगवान तो गरीबों के बीच रहते हैं। जिस दिन गरीबों और किसानों ने ठान लिया उसी दिन भगवान का चोला पहनकर दम्भ भरने वालों को मुंह की खानी पड़ेगी। क्योंकि आम आदमी ने ना तो रावण के दम्भ को बर्दास्त किया और ना ही कंश के। फिर मोदी कौन होते हैं।

                 अटल श्रीवास्तव ने कहा कि चुनाव के पहले मोदी और उनकी पार्टी ने लोक लुभावन वादे किए। गरीबों और किसानों को न्याय दिलाने की बात कही। लेकिन सरकार बनते ही…सारी बातें मुंगेरीलाल के हसीन सपने साबित हो गयी है। अटल ने बताया कि वादों को पूरा करने के लिए कलेजे की जरूरत होती है। मात्र 56 इंच का सीना कहने भर से आम जनता का पेट नहीं भरा जा सकता है। 56 इंंच सीने के अन्दर जिगर होना चाहिए। जो फिलहाल केन्द्र के किसी भी नेता में नहीं है।

                    अपने भाषण में अटल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में सरकार बनते ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल में मात्र कुछ घंटे में वह कर दिखाया..जिसे करने की शायद ही सोचे। मात्र दो घंटे के अन्दर किसानों का बोनस और 2500 समर्थन मूल्य देने का एलान किया गया। बिजली बिल हाफ कर दिया गया। यह जानते हुए भी पिछले पन्द्रह सालों में भाजपा सरकार ने प्रदेश का खजाना खाली कर दिया है।बावजूद इसके दृढ़ इच्छाशक्ति के धनी भूपेश और उनके कैबिनेट कर दिखाया।

        अटल ने बताया कि केन्द्र में सरकार बनाते ही सबसे पहले मोदी सरकार ने प्रदेश के लाखों गरीबों का चूल्हा बन्द कर दिया। सत्तर प्रतिशत केरोसिन में कटौती कर जनता को मोदी सरकार ने खुली चुनौती दी है। उस जनता को जिसने केन्द्र की मोदी सरकार पर विश्वास जाहिर किया। और मोदी सरकार ने इसके बदले जनता के साथ विश्वास घात किया है।

               अटल ने पत्रकारों को जानकारी दी कि केन्द्रीय पूल से मिलने वाले चावल में मोदी सरकार ने कटौती कर जनता को ठगने का काम किया है। दाल भात केन्द्रों को मिलने वाले चावल में भारी कटौती से गरीब जनता बेबस और लाचार है। कटाक्ष करते हुए अटल ने कहा कि सरकार आंख खोलिए..क्योंकि जनता जब अपने पर आती है तो किसी की नहीं सुनती…क्योंकि जब-जब किसी ने खुद को भगवान समझा..जनता जनार्दन ने भगवानगिरी करने वालों को सबक सिखाया है।

                    चुनाव के समय भाजपा ने वादा किया था कि महंगाई पर नियंत्रण किया जाएगा। पेट्रोल डीजल के दामों पर लगाम लगाया जाएगा। धान का समर्थन मूल्य डेढ गुना किया जाएगा। अफसोस ऐसा कुछ तो नहीं हुआ। हां..महंगाई आसमान छून लगी है। पेट्रोल डीजल के दाम पींगे मारने लगे हैं। धान का समर्थन मूल्य में डेढ़ गुना की वजाय मात्र 65 रूपए की वृद्धि हुई है। यह मजाक नहीं तो और क्या है। अटल ने कहा कि हमने राष्ट्रपति के नाम पांच बिन्दुओं को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन दिया है। यदि मामले में विचार नहीं किया जाता है तो प्रदेश और राष्ट्रीय कांग्रेस के निर्देश पर कांग्रेस कार्यकर्ता उचित कदम उठाएंगे।

                                राय़गढ़ में आयोजित कांग्रेस के एक दिवसीय धरना प्रदर्शन में स्थानीय वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के अलावा बिलासपुर से अटल श्रीवास्तव समेत प्रदेश प्रवक्ता अभय नाराण राय,विधायक प्रकाश नायक समेत जिले के सभी ब्लाक अध्यक्ष मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *