CM भूपेश बघेल मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष बने, एक साल का है कार्यकाल


रायपुर।
7 जुलाई 2019 से आगामी एक साल के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष बनाए जाने पर कांग्रेस ने बधाई दी है। मध्य क्षेत्रीय परिषद के अध्यक्ष देश के गृहमंत्री होते है। भारत सरकार के गृह मंत्रालय के अन्तर्राज्य परिषद सचिवालय द्वारा इसकी सूचना जारी कर दी गई है। क्षेत्रीय परिषदें संबंधित क्षेत्रों के संतुलित सामाजिक-आर्थिक विकास के साथ ही अंतर राज्यीय समस्याओं को हल करने में परिषद में शामिल राज्यों के बीच और केन्द्र के साथ स्वस्थ्य वातावरण निर्माण में एक उच्च स्तरीय सलाहकार मंच स्थापित करता है।

गौरतलब है कि राज्य पुनर्गठन अधिनियम 1956 के तहत उत्तर, मध्य, दक्षिण, पूर्वी और पश्चिमी क्षेत्रीय परिषदों का गठन किया गया है। वर्तमान में मध्य क्षेत्रीय परिषद में छत्तीसगढ़ के अलावा उत्तप्रदेश, उत्तराखण्ड और मध्यप्रदेश राज्य शामिल है। केन्द्रीय गृह मंत्री सभी क्षेत्रीय परिषद के अध्यक्ष होते है। प्रत्येक क्षेत्रीय परिषद में शामिल राज्य के मुख्यमंत्री को रोटेशन में परिषद का उपाध्यक्ष बनाया जाता है। जिनका कार्यकाल एक वर्ष का होता है। वर्तमान में उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष थे जिनका कार्यकाल बीते 6 जुलाई को समाप्त हो गया है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अब मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष होंगे।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...