भाजपा युवा नेता का सवाल…कश्मीर के हालात के लिए जिम्मेदार कौन…किसने बनाया जन्नत को जहन्नुम

बिलासपुर— संसद में धारा 370 के खिलाफ प्रस्ताव पारित होने के बाद भाजपा नेताओं ने खुशी जाहिर की है। देश समेत बिलासपुर में जमकर जश्न मनाया गया। फटाखे फोड़े गए…मिठाइयां बांटी गयी। लोगों ने एक दूसरे को गले मिलकर बधाई दी। भाजपा के युवा नेता मनीष अग्रवाल ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि मोदी है तो मुमकिन है। इस बात को आज करोड़ों देशवासियों न केवल माना बल्कि देखा भी।
               धारा 370 को हटाने का प्रस्ताव पारित होने पर खुशी जाहिर करते हुए भाजपा के युवा नेता मनीष अग्रवाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार देशहित में सदैव प्रयत्नशील है। विश्व में हिंदुस्तान की एक अलग छवि बना रही है। दुनिया जानती है कि जम्मू कश्मीर पृथ्वी का स्वर्ग है। राजनीतिक नजर ऐसी लगी कि विगत कुछ वर्षों से घाटियों में फूल की गोला और बारूद की खेती होने लगी। आम जनों की आवाज को दबा दिया गया।  रोजगार शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधा की जगह लोगों के हाथों में हथियार पकड़ा दिया। लेकिन कश्मीर को एक बार फिर स्वर्ग बनाने मोदी सरकार ने फैसला किया है।
                                  केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने देश में 72 साल पहले हुई राजनीतिक गलतियों को सुधारते हुए देश में एक निशान एक विधान एक प्रधान लागू करने की दिशा में ऐतिहासिक कदम उठाया है। भारत सरकार के निर्णय से देश के 130 करोड़ देशवासियों को खुशी मिली है। इस निर्णय से देश का हर नागरिक स्वर्ग से सुंदर कश्मीर जैसे प्रदेश में जाकर बस सकता है। दलित और पिछड़ा वर्ग को आरक्षण का लाभ भी मिलने लगेगा।
                मनीष ने कहा कि 72 साल पहले की गई गलतियां आज सुधारी गयी है। इसलिए इस पर राजनीति करना ठीक नहीं है। पीओके का निर्माण यदि हुआ तो यह किसने किया । देश में सबसे ज्यादा राज करने वाली राजनीतिक पार्टियां कौन थी। देश के राज्यों में अलग कानून की व्यवस्था कानून और शासन पूर्व के राजनीतिक दलों के द्वारा ही बनाए गए थे ऐसा क्यों। कांग्रेस को बताना होगा कि  जम्मू कश्मीर राज्य की आज वर्तमान हालात के लिए जिम्मेदार कौन है। बताना चाहिए कि जन्नत को जहन्नुम बनाने के लिए जिम्मेदार कौन है।
                      लेकिन बताना जरूरी है कि  भारतीय जनता पार्टी केंद्र की मोदी सरकार ने देश हित में हमेशा काम किया है। धारा 370 हटना भी इन्ही महत्वपूर्ण कार्यों में से एक है।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...