40 इमारतों पर मंडराया खतरा…खतरे में अमरनाथ की दुकान

IMG-20151007-WA0008बिलासपुर—गोलबाजार में जमीन नापाजोख के बाद व्यापारियों की धड़कनें बढ़ गयी है। राजस्व विभाग ने चालिस दुकानों को अतिक्रमण पर होना बताया है। नाप जोख के बाद राजस्व विभाग ने खतरे का निशान लगाकर व्यापारियों को तीन दिन के भीतर नजुल की जमीन को खाली करने को कहा है। बताया जा रहा है कि अमर नाथ की दुकान पर भी बुलडोजर चल सकता है। बहरहाल राजस्व अमला हनुमान मंदिर के पास 1922 के कुएं की तलाश कर रहा है।

                   गोला बाजार के मस्जिद गली में चालिस से अधिक दुकान अतिक्रमण के जद में आ गये हैं। नजूल की जमीन पर कुछ ने आलिशान घर तो कुछ ने दुकान बना लिया है। राजस्व अमला आज तहसीलदार पीसी कोरी की अगुवाई में हनुमान मंदिर चांद मुनारा से नाप जोख शुरू किया। मस्जिद गली पूरी तरह से अतिक्रमण का भेट होना पाया है। 1922 के नक्शे के अनुसार मस्जिद गली के अलावा अन्य गलियों पर भी लोगों ने बिना अनुमति कब्जा कर लिया है। आश्चर्य की बात तो यह है कि निगम इन दुकानदारों से टैक्स भी ले रहा है। बहरहाल नाम जोंख के बाद तहसीलदार पीसी कोरी ने दुकानदारों को तीन दिन के भीतर अतिक्रमण हटाने का आदेश दिय़ा है।

                     एक दिन पहले ही निगम ने मानसरोवर हाटल के पास एक दुकान को जमीदोझ किया है। आज मस्जिद गली में सडक और पार्किंग के लिए नाप जोख किया गया। इस दौरान नजूल अमले ने पाया कि चालिस फिट की सड़क को अतिक्रमण कारियों ने गली बना दिया है। कांग्रेस नेत्री शहजादी कुरैशी ने दीपावली के बाद कार्रवाई किये जाने की मोहलत मांगी। लेकिन तहसीलदार ने सिर्फ तीन  दिन का ही समय दिया है।

                       मस्जिद गली की नापजोख के बाद नजूल अधिकारियों ने दर्जी लाइन का भी सर्वे किया। अधिकारियों ने इस दौरान अमरनाथ दुकान के संचालक से दुकान के कागजात मांगे हैं। बताया जा रहा है कि यह दुकान अमरनाथ ने किसी दूसरे से खरीदी है। या फिर अवैध रूप से बनवाया है। बहरहाल दुकान के कागजात संचालक ने अभी तक नहीं दिखाया है। राजस्व अधिकारियों के अनुसार दर्जी लाइन के पास कहीं एक पुराना कुंआ था। उसकी तलाश की जा रही है। बताया जा रहा है कि वह कुआं अमरनाथ के दुकान के नीचे दफन हो गया है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...