एयरगन और नगली पिस्टल बरामद..तीनों आरोपी गए जेल…देर रात्रि मिलकर दिया था वारदात को अंजाम

बिलासपुर— मंगला चौक के पास हाइवा चालक को एयरगन और नकली पिस्टर दिखाकर लूटपाट करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा है। घटना 21 अगस्त देर रात्रि की है। शिकायत के बाद पुलिस ने अलग अलग टीम बनाकर पतासाजी की। एडिश्नल एसपी ने बताया कि तीनों को मंगला चौक के पास ही घेराबन्दी कर पकड़ा गया है।

                    एडिश्नल एसपी ओमप्रकाश ने बताया कि सिविल लाइन थाना पहंचकर 21 अगस्त की रात्रि करीब ढाई बजे हाइवा चालक सुनील कुमार निर्मलकर ने लूटपाट की लिखित शिकायत की। अकलतरा निवासी सुनील निर्मलकर ने बताया कि 21 की देर रात्रि हाइवा में मिट्टी लेकर मंगला चौक आया। मुंदड़ा अस्पताल के सामने अनलोडिंग कर रहा था। इतने में स्विफ्ट कार में सवार होकर तीन लोग आए। बिना पूछताछ किए धमकाना और मारपीट करना शुरू कर दिया। सुनील निर्मलकर ने स्वीफ्ट कार का नम्बर सीजी11 एफ 1566 बताया।

                   शिकायत दर्ज के बाद आरोपियों की जांच पड़ताल टीम बनाकर शुरू किया गया। इस दौरान जानकारी मिली कि स्वीफ्ट कार किसी संजय कुमार यादव के नाम पंजीकृत है। पूछताछ में संजय यादव ने पुलिस को बताया कि कार को विक्री के लिए सरकन्डा निवासी अमन केसवानी को दिया है।

      ओपी शर्मा ने बताया कि इस बीच अलग अलग टीम को जानकारी मिली कि आशु सिंघल, प्रदीप और आसिफ को रात्रि में जहां तहां घूमते हुए देखा गया है। पुलिस ने तीनों को पकड़ने रणनीति तैयार की। आरोपी आशु और प्रदीप को व्यापार विहार रोड में घेराबन्दी कर पकड़ा गया। दोनों को थाना लाकर पूछताछ हुई। दोनो आरोपियों ने अपराध कबूल किया। तीसरे आरोपी आसिफ को मंगला चौक में घेराबन्दी कर हिरासत में लिया गया। आसिफ ने भी हाइवा चालक से लूटपाट की बात को स्वीकार किया ।

                     एडिश्नल एसपी ने बताया कि तीनों आरोपियों के पास से नगर समेत लूटपाट की गयी मोबाइल को जब्त किया गया।  इसके अलावा घटना को अंजाम देते समय कार और तीन एअरगन समेत नकली पिस्टल को भी बरामद किया गया है। तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *