शिव डहरिया का आदेश…सर्वे कर रिपोर्ट जल्द से जल्द भेजा जाए.. प्रतिनिधमंडल से कहा…करेंगे पट्टा वितरण

रायपुर— कांग्रेस नेता लक्ष्मीनाथ साहू की अगवाई में तिफरा का एक प्रतिनिधि मंडल रायपुर पहुंचकर नगरीय निकाय मंत्री से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने निकाय मंत्री से पट्टे की माँग करते हुए कहा कि आज भी हम लोग सरकारी जमीन पर काबिज हैं। घोषणा के बाद भी तिफरा की बहुत बड़ी गरीब आबादी को पट्टा नहीं दिया गया है। जिसके चलते हमेशा बेघरबार होने का खतरा बना रहता है।
                                                                                          प्रतिनिधिमंडल में शामिल वरिष्ठ कांग्रेस नेता ओमप्रकाश गंगोत्री,महेन्द्र गंगोत्री, लक्ष्मीनाथ साहू, विश्राम वस्त्रकार  ने बताया कि वर्तमान में तिफरा नगर पालिका को बिलासपुर नगर निगम में शामिल कर लिया गया है। प्रक्रिया के बाद तिफरा की बहुत बड़ी गरीब आबादी डर के साए में जी रही है। उन्हें भय है कि सालों से सरकारी जमीन काबिज होने के बाद भी कहीं उन्हें विस्थापित ना कर दिया जाए। प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि गरीब आबादी ने सरकारी जमीन पर सालों से झुग्गी झोपड़ी बनाकर निवास कर रहे हैं।
                                  मंहेन्द्र और लक्ष्मीनाथ ने डॉ.शिव डहरिया को बताया कि तिफ़रा क्षेत्र के भगत सिंह आज़ाद नगर, या.दव नगर, इंदरपुरी, मन्नाडोल के स्थानीय गरीब लोग लम्बे समय से लगातार पट्टे की माँग कर रहे हैं। पट्टे को लेकर कई बार आंदोलन किया गया। आज तक उन्हे पट्टे का इंतजार है।
              प्रतिनिधिमंडल ने रायपुर स्थित कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया से मुलाक़ात कर बताया कि लोग पट्टे की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में भूमिहीन क़ब्ज़ा धारियों को पट्टे दिए जाने का वादा किया है। लोगों को आज भी वादा पूरा होने का इंतजार है। लेकिन डर भी है कि कहीं इसके पहले उनके आशियाने को तोड़ नहीं दिया जाए।
               लक्ष्मीनाथ साहू ने बताया कि निकाय मंत्री ने प्रतिनिधिमंडल की बातों को गंभीरता से लेते हुए भूमिहीन क़ब्ज़ाधारियों को पट्टा वितरण को लेकर सर्वे का आदेश दिया। ज़ोन कमिश्नर को फ़ोन पर बताया कि सर्वे की जानकारी जल्द से जल्द दिया जाए।  प्रतिनिधिमंडल में युकाँ ज़िला सचिव संत सर्वे, पूर्व पार्षद गणेश अनंत, डॉ.हीरा बघेल, देवारी साहू शिवकुमार चक्रधारी और आशाराम ध्रुव भी शामिल थे।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...