अमित जोगी की आखिर अपोलो से छुट्टी,रायपुर रवाना किए जाने की खबर..पढ़िए रवाना होते होते अमित – ऋचा जोगी और धर्मजीत सिंह क्या बोले

बिलासपुर ।नागरिकता के मामले में गिरफ्तार किए गए छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व विधायक अमित जोगी  की आखिर अपोलो से छुट्टी हो गई है । बुधवार को दोपहर करीब 3:30 बजे उन्हें अपोलो से डिस्चार्ज किया गया और रायपुर के लिए रवाना किए जाने की खबर है। हालांकि अपोलो से निकलते समय अमित जोगी और लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह ने कहा कि हमें नहीं मालूम कि अमित जोगी को कहां ले जाया जा रहा है ।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करे
इस बारे में अधिकृत रूप से कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।अपोलो अस्पताल से छुट्टी के समय भारी पुलिस बल के साथ जोगी समर्थक भी मौजूद थे।जैसा कि मालूम है कि अमित जोगी को नागरिकता  से संबंधित मामले में गिरफ्तार किया गया है ।उन्हें गौरेला पुलिस ने गिरफ्तार किया था और उन्हें गौरेला जेल में रखा गया था। जहां तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें पहले सिम्स लाया गया ।इसके बाद अपोलो में दाखिल कर इलाज किया गया।
मंगलवार से ही इस बात को लेकर सुगबुगाहट रही कि अमित जोगी को अपोलो से डिस्चार्ज किया जा सकता है ।क्योंकि उन्हें स्वस्थ बताया जा रहा था ‌ इस बीच अपोलो की ओर से जारी डिस्चार्ज टिकट भी सामने आया जिसमें उन्हें बीमारी के इलाज के लिए मेदांता अस्पताल रिफर किए जाने की बात लिखी गई थी। जानकारी मिली है कि इसके बाद प्रदेश स्तर की मेडिकल बोर्ड टीम अपोलो अपोलो पहुंची थी।
इस टीम में शामिल डॉक्टरों ने अमित जोगी की तबीयत के बारे में जानकारी ली ।समझा जा रहा है कि इसके बाद ही उन्हें रायपुर शिफ्ट किए जाने का निर्णय लिया गया। इधर अमित जोगी को लेकर ऊहापोह की स्थिति बनी रही और लोगों की जिज्ञासा भी बढ़ रही थी। बुधवार को दोपहर बाद करीब 3:30 बजे अमित जोगी को अपोलो से छुट्टी दे दी गई और उन्हें रायपुर रवाना किए जाने की खबर है ।
दोपहर बाद जिस समय अमित जोगी को अपोलो से डिस्चार्ज किया गया और स्ट्रेचर पर बाहर लाया गया उस समय आसपास पुलिस की व्यवस्था थी ।लेकिन अधिकारिक रूप से यह जानकारी नहीं मिल पाई कि अमित जोगी को कहां ले जाया जा रहा है। इस बारे में कोई अधिकृत जानकारी नहीं मिल सकी।अपोलो से डिस्चार्ज किए जाने के समय वहां बड़ी संख्या में पुलिस बल भी मौजूद था ।साथ ही लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह ,ऋचा जोगी विश्वंभर गुलहरे, विक्रांत तिवारी आदि समर्थक भी मौजूद थे।
अपोलो से डिस्चार्ज किए जाते समय पत्रकारों से बात करते हुए अमित जोगी ने कहा कि उन्हें यह नहीं मालूम कि उन्हें कहां ले जाया जा रहा है। उनका कहना था कि यदि उन्हें स्वस्थ बताया जा रहा है तो वापस गोरखपुर जेल भेज दिया जाए ।उन्होंने यह भी कहा कि सुबह प्रदेश स्तरीय चिकित्सा बोर्ड के डॉक्टर उनसे प्रश्न पूछने आए थे ।
लेकिन चंद मिनटों के भीतर ही रिपोर्ट कोर्ट में पेश कर दी गई और रिपोर्ट क्या है इसकी जानकारी उन्हें नहीं दी गई ।अमित जोगी ने इसे बदलापुर की राजनीति बताया ।
इस मौके पर मौजूद लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह ने भी कहा कि उन्हें अभी तक यह जानकारी नहीं है कि अमित जोगी को कहां ले जाया जा रहा है । पूरी कार्यवाही गुप्त तरीके से की जा रही है और संदेह के दायरे में है। उन्होंने कहा कि कोई भी अप्रिय घटना हो सकती है। साथ ही मांग की की शाम को अमित जोगी का हेल्थ बुलेटिन जारी किया जाना चाहिए। उन्होंने पूरे मामले में न्यायालय पर अपना भरोसा जताया।
अमित जोगी की पत्नी ऋचा जोगी ने  मीडिया से कहा कि उन्हें भी यह नहीं मालूम कि अमित जोगी को कहां ले जाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अमित जोगी की हालत ठीक नहीं है और उन्हें हायर सेंटर में रिफर करने का अनुरोध किया गया था ।इस पर क्या कार्यवाही हुई यह अभी तक नहीं मालूम। उन्होंने यह भी कहा कि अगर अमित जोगी को कुछ होता है तो इसकी जिम्मेदार सरकार होगी।
अमित जोगी की रवानगी के साथ ही लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह ऋचा जोगी और उनके समर्थक भी पीछे पीछे रवाना हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *