जोगी की थाली में हमने ही किए हैं छेद…अपनी बुआ देवती कर्मा का करो समर्थन…अन्यथा पछताओगे

बिलासपुर— दंतेवाड़ा विधानसभा उपचुनाव में जोगी कांग्रेस प्रत्याशी सुजीत कर्मा और तथाकथित कांग्रेस समर्थक नेता तरूण देवांगन का आडियो दो एक दिन से जमकर वायरल हो रहा है। एक तरफ जोगी कांग्रेस प्रत्याशी अपने आपको दो दिन की सम्मानभरी जिन्दगी जीने का हवाला देकर मैदान से हटने से इंकार कर दिया है। तो कांग्रेस के समर्थन में नाम वापस लेने के लिए दबाव बना रहे नेता तरूण देवांगन जोगी को 420 की बात रहे हैं। इतना ही नहीं तरूण देवांगन आडियो में दावा किया है कि हमने ही जोगी की थाली में इतना छेद किया  कि अब छेद करने लायक कुछ नहीं रह गया है। बेहतर होगा कि बेहतर भविष्य को ध्यान में रखकर अपनी बुआ देवती कर्मा का समर्थन करें।

                      सोशल मीडिया में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम और सुजीत कर्मा का भी आडियो वायरल हो रहा है। लोग जमकर सुन भी रहे हैं। लेकिन सुजीत कर्मा और तरूण देवांगन के आडियो को कुछ ज्यादा ही सुना और सुनाया जा रहा है। तरूण देवांगन कहते सुनाई दे रहे हैं कि जिस पार्टी की उम्र कम हो उसका दामन थामने से अच्छा होगा कि कांग्रेस के साथ आ जाएं। तरूण देंवागन दावा कर रहे हैं कि हम बेहतर जिन्दगी देने का वादा कर रहे हैं। वर्ना बाद में पछताओगे। क्योंकि आने वाले दस साल तक प्रदेश की सरकार कांग्रेस ही चलाएगी। सुने पूरी आडियो…

                                  बातचीत के दौरान सुजीत कर्मा और तरूण देवांंगन एक दूसरे की बात बराबर काटते हुए सुनाई दे रहे हैं। तरूण देवांगन ने बातचीत के दौरान बताया कि देवती घर की है। घर परिवार को छोड़कर दूसरे के सामने गिड़गिड़ाना ठीक नहींं। स्वाभिमान की जिन्दगी जीना सीखो। दोनो बाप बेटे जेल जाने वाले हैं। तरूण ने बारबार कहा कि सिविल इंजीनियर हो..मेरी तरह ठेेका करने लगोगे। कांग्रेस का साथ दो। बीच में बात काटकर सुजीत कर्मा ने कहा कि जब मैं पढ़ाई के लिए बुआ के पास सहयोग मांगने गया तो धक्के मारकर निकाल दी। उस समय मैं क्यो याद नहीं आया। मैने तो साहब से टिकट मांगा ही नहीं। उन्होने मुझ पर विश्वास किया। इतना ही काफी है…क्योंकि मैं वर्तमान में जीता हूं…भविष्य क्या होगा…मै नहीं जानता…। मै जिस थाली में खाता हूं उसमें छेद नहीं करता। साहब ाकी व्यक्तिगत जीवन से मुझे कुछ नहीं लेना देना। उन्होने ही मुझे इस लायक बनाया कि आप फोन पर बातचीत कर रहे हैं। इस बीच तरूण ने कई बार समझाने का प्रयास किया। साथ में यह भी कहा कि हम लोगों ने जोगी की थाली में छेद किया है। अब कहीं का नहीं रह गया। हमने इतना छेद किया है कि तुम्हारी लिए अब थाली में जगह ही नहीं है। जोगी मुझे जानते हैं…चाहो तो पूछ लो। इतना सुनते ही कर्मा ने कहा कि उन्ही कह दो…यदि वे चाहेंगे को नाम वापस ले लूंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *