अमित जोगी ने कहा…व्हील चेयर पर करूंगा पैरवी…न्यूरोसर्जरी विशेषज्ञ की देख रेख में हो मिर्गी का इलाज

रायपुर—-जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ पार्टी प्रवक्ता भगवानू नायक के अनुसार प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी का स्वास्थ्य लगातार ठीक हो रहा है। चिकित्सकों  से हासिल जानकारी के अनुसार अमित जोगी को मस्तिक सम्बंधित मिर्गी रोग हैं। रोग का  कारण अभी तक पता नहीं चल सका हैं। निजी चिकित्सकों ने बताया गया की अपोलो हॉस्पिटल मे उपचार के दौरान दवाई की मात्रा मे वृद्धि के कारण स्वास्थ और बिगड़ा था। जिसके कारण जोगी बेहोशी ,खान पान, पेशाब और शौच बंद हो गया। चक्कर की बीमारी हो गयी थी।

                     डॉक्टरो ने अमित जोगी को बताया कि दवा बृद्धि से साइड इफेक्टट हुआ है। पिछले दो दिनो से डॉक्टरो ने अमित जोगी को सभी मस्तिष्क रोग उच्च रक्तचाप की दवाइयों के ओव्हर डोज के साइड इफेक्ट को खत्म करते हुए पिछले तीन दिनो से सभी दवाइयाँ बंद कर दी गयी हैं। कल रात से नई दवाइयो से उपचार शुरू हुआ है। अमित जोगी का स्वास्थ तेज़ी से सामान्य हो रहा है। सामान्य खुराक ,पेशाब  और शौच प्रारम्भ हो गया है। अमित जोगी की माता और चिकित्सक डॉक्टर रेणु जोगी ने बताया कि अमित अब सामान्य रूप से लेट और बैठ रहे हैं। खड़े होने और चलने के दौरान उन्हें बेहोशी ,मस्तिष्क मे भारीपन के साथ चक्कर आ रहा है।

             भगवानु नायक ने बताया की अमित जोगी ने चिकित्सकों से निवेदन किया है कि व्हील-चेयर पर ही डिस्चार्ज कर दे। ताकि वे दो दिन बाद गौरेला मे  न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पूर्व निर्धारित 17.09.19 की पेशी और 16.09.19 को न्यायिक मजिस्ट्रेट रायपुर के के सामने अपनी पैरवी कर सके। उन्होंने राज्य स्तरीय मेडिकल बोर्ड, अपोलो हॉस्पिटल बिलासपुर और मेडिकल आफ़िसर गोरेला और जेल अधिनियम  1894 की धारा 24(2) और मेदांता हॉस्पिटल की मेडिकल रिपोर्ट की बुनियाद पर भी माँग की हैं कि भविष्य मे उनका उपचार न्यूरोलाजिस्ट से नहीं करवाकर न्यूरोसर्जरी  विशेषज्ञ से कराया जाए। ताकि बेहोशी के कारणों का पता लगाया जा सके ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *