शिक्षा कर्मियों का संशोधित पदोन्नति आदेश चार साल से अटका, जिला पंचायत को फिर सौंपी अर्जी

क्रमोन्नति ,खुशखबरी,LB,शिक्षकों,क्रमोन्नति-समयमान,लाभ ,निर्देश,जारी,DEO,BEO,पात्र LB शिक्षकों,लिस्ट, प्रस्ताव,आदेश,संवेदना अभियान,chhattisgarh,शासन, आर्थिक सहयोग,शिक्षाकर्मी,संविलियन,शिक्षाकर्मियों,chhattisgarh,pran,cps,ddoजगदलपुर।पंचायत संचालनालय द्वारा दो बार संशोधित पदोन्नति आदेश जारी किए जाने का आदेश देने के बावजूद 4 साल बीत जाने के बाद संशोधित पदोन्नति आदेश जारी नहीं किया गया है।माध्यमिक शाला बुरगुम में पोस्टेड शिक्षक पंचायत ढालसिंह ठाकुर ने एक बार फिर जिला पंचायत के सीईओ को पत्र लिखकर ध्यान आकर्षित करने की कोशिश की है।पत्र के मुताबिक सीईओ ने संशोधित पदोन्नति आदेश को लेकर संचालनालय और बस्तर कमिश्नर से 21 जनवरी 2019 को मार्गदर्शन मांगा गया था।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे

जिसके बाद संचालनालय ने पहले 21 जून 2018 फिर 29 अगस्त 2018 को आदेश जारी करते हुए पुनः संशोधित पदोन्नति आदेश जारी करने निर्देशित किया।21 जून, 4 अगस्त और 4 सितंबर को इस बारे में पीड़ित शिक्षक ने पत्र लिखकर निवेदन किया लेकिन आज तक इस विषय में कोई कार्रवाई नहीं की जा सकी।

बीते 4 सालों से प्रकरण को दरकिनार करते हुए किसी भी प्रकार की तेजी नजर नहीं आने की वजह से शिक्षक पंचायत मानसिक,शारीरिक और आर्थिक रूप से परेशान हो चुका है।संचालनालय के उक्त आदेशों का हवाला देते हुए शिक्षक पंचायत में संशोधित पदोन्नति आदेश जारी करने की अपील करते हुए सीईओ जिला पंचायत को पत्र भेजकर निवेदन किया है।

सीईओ को लिखे गए पत्र की कॉपी शिक्षक पंचायत ने संचालक पंचायत संचालनालय रायपुर और बस्तर कलेक्टर को भी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *