बैंकरों ने किया दो दिवसीय हड़ताल का एलान…4 दिन नहीं खुलेंगे बैंकों के दरवाजे…वार्ता विफल होने से अधिकारी नाखुश

बिलासपुर— बैंकरों की समझौता वार्ता विफल हो गया है। यात्रा विफल होने के बाद बैंकरों ने एलान किया है कि 25 को पूर्व घोषित अखिल भारतीय बैंक हड़ताल किया जाएगा। ललित अग्रवाल ने बताया कि प्रबंधन की हठधर्मिता से बैंकरो को झटका लगा है। बैठक का आयोजन दिल्ली में किया गया था।
                     आइबोक छत्तीगढ़ के सहायक महासचिव ललित अग्रवाल ने बताया कि तीन सूत्रीय मांग को लेकर आयोजित वार्ता विफल हो गयी है। वार्ता  केन्द्रीय कमिश्नर की अध्यक्षता में हुई। बैठक में बैंक अधिकारी संगठन के नुमाइंदों ने भाग लिया। इस दौरान आईबोक,एआईबीओए,इनबोक,नोबो संगठन के पदाधिकारी विशेष रूप से समझौता वार्ता में शामिल हुए।
            ललित अग्रवाल ने बताया कि बैंकर संगठनों ने शासन के सामने अपनी तीन सूत्रीय मांगों को पेश किया था। मांग पूरी नहीं होने पर 25 सितम्बर से दो दिवसीय अखिल भारतीय हड़ताल का एलान किया था। हड़ताल एलान के बाद दोनों पक्षों में सहमति बनी कि समझौता टेबल बातचीत हो। आज दिल्ली में आयोजित केन्द्रीय लेबर कमिश्नर की अध्यक्षता में बात को लेकर तीन सूत्रीय मांगो पर वार्ती हुई। लेकिन वार्ता का कोई परिणाम सामने नहीं आया। दरअसल वार्ता विफल हो गयी है।
               चारो बैंक अधिकारी संगठन के प्रतिनिधियों ने वार्ता के दौरान प्रस्तावित बैंको के मर्जर का विरोध किया। 1 नवम्बर 2017 से लंबित वेतन समझौता शीघ्र करने की मांग को गंभीरता के साथ पेश किया। पेंशन अपडेशन और अन्य मुद्दों पर अपनी बातों को रखा। बावजूद इसके नतीजा नहीं निकला है। वार्ता के बाद बैंक कर्मचारी संगठन प्रमुखों ने एलान किया है कि 48 घँटों की हड़ताल को सफल बनाया जाएगा।
          आइबोक छत्तीसगढ़ के सहायक महासचिव ललित अग्रवाल ने बताया कि 25 और 27 सितम्बर को देश के सभी बैंकर दो दिवसीय अखिल भारतीय हड़ताल पर रहेंगे। 28 और 29 सितम्बर को शासकीय अवकाश रहेगा। कुल मिलाकर चार दिनों तक बैंक नहीं खुलेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *