इतिहास में गांधीजी की विचारधारा प्रासंगिक, 150 वी जयंती पर “एक गांधी द बैरिस्टर’ पर परिचर्चा का आयोजन

रायपुर।छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी विधि विभाग द्वारा राजीव भवन रायपुर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वी जयंती के उपलक्ष्य में एक परिचर्चा सम्मेलन किया गया।प्रदेश कांग्रेस कमेटी विधि विभाग द्वारा दिनांक 05-10-19 को राजीव भवन प्रदेश कांग्रेस भवन में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वी जयंती के उपलक्ष्य में एक परिचर्चा कार्यक्रम “गांधी-एक बैरिस्टर” रखा गया था । जिसमे कांग्रेस के वरिष्ठ अधिवक्ताओं का सम्मान कार्यक्रम का भी आयोजन था । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधि मंत्री मोहम्मद अकबर जी थे।विशिष्ट अतिथि के रूप में राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी शैलेश नितिन त्रिवेदी उपस्थित थे।

कार्यक्रम की अध्यक्षता विधि विभाग कांग्रेस के अध्यक्ष संदीप दुबे ने की ।कार्यक्रम में वरिष्ठ अधिवक्ता टी.सी अग्रवाल, अम्बर शुक्ला, हाशिम खान, रमेश कसार, अवनींद्रनाथ ठाकुर,अमृतलाल भोई, प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन, किरणमयी नायक ,रज़्ज़न श्रीवास्तव,मोहन लाल निषाद को छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी विधि विभाग के लिए उत्कृष्ठ एवम उल्लेखनीय कार्यों के लिए सम्मानित किया गया ।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि मोहम्मद अकबर ने कहा कि गांधी जी अधिवक्ता के रूप में समाज के दर्पण थे, आज़ादी की लड़ाई में अधिवक्ताओं के योगदान को दरकिनार नही किया जा सकता। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि इतिहास में गांधी की विचारधारा प्रासंगिक है जिनका अनुसरण एवम पालन अधिवक्ता के रूप में उचित रीति से किया जा सकता है ।

कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि राज्यसभा सांसद छाया वर्मा ने कहा कि महात्मा गांधी की भूमिका अतुलनीय है । कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे संदीप दुबे ने कहा कैसे विधि के पढ़ाई करने के बाद 21 वर्ष वकालत किये, जिसमे एक वर्ष मुंबई एवं राजकोट मे उसके पश्चात 1893 मई से सॉउथ अफ्रीका मे, वहा पहुंचते की उनसे किये गए रंगभेद जसमे उन्हें ट्रैन से उतरना, जहाँ से उनके मन मे अहिंसक आंदोलन की निवेदन पड़ी एवं सत्याग्रह का जन्म हुआ।

वहा रहने के दौरान बहुत से कानूनों का विधि व्यवसाय से एवं अहिंसक आंदोलन से विरोध किया पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम में सर्वोच्च न्यायालय अधिवक्ता सुदीप श्रीवास्तव, पूर्व महापौर एवम अधिवक्ता किरणमयी नायक, विधि विभाग के महामंत्री रूपेश दुबे ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

कार्यक्रम का संचालन प्रदेश कांग्रेस कमेटी विधि विभाग के प्रभारी महामंत्री शिवेश सिंह द्वारा किया गया ।उक्त कार्यक्रम में प्रदेश भर से कांग्रेस कमेटी विधि विभाग के पदाधिकारी मजूद थे जिनमे किशोर सिंह, सोनल कुमार गुप्ता,पूजा मोगरी, जसराज प्रीत सिंघ, अभिषेक अग्रवाल,मोनिका सिंह, मोहन लाल निषाद, राजेश सिंह ठाकुर, फ़िरोज़ खान,शरद पांडेय, मनोज सोनकर, कु० शमीम रहमान, कहकशा दानी ,अर्चना त्रिपाठी , विजय राठौर , दीपक साहू , नरेन्द्र वर्मा, दाऊ लाल साहू, स्मिता जैन, अजय कुमार त्रिपाठी,आदित्यनंद झा, लक्की राय, प्रदीप राजगीर,सी.पी. जगने, डिकेन्द्र देवांगन,राजकुमार जोशी जी ,श्री मणिशंकर मीटे, महेंद्र देवांगन, नरेंद्र देवांगन, शैलेन्द्र साहू,शक्ति सिंह, रघुवीर प्रताप सिंह, सुरेंद्र जायसवाल,मनोज कुमार राठौर, सिराज खान, कौशल प्रसाद श्रीवास, पूनम रंगारी, कमलेश श्रीवास, राधेश्याम पटेल, अशोक आनंद,मुन्नी दास, गिरधर जायसवाल, संतोष भगत,के.के सिंह, ए. एन पांडे जी , प्रीतम देशमुख,हेलेना मोजेस, ओमप्रकाश शर्मा, दीपक खोबरागड़े, संजय विश्वकर्मा, रवि जैन, दीपक शर्मा, कृष्णा यादव, विनोद कश्यप,दिनेश कुमार राठौर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *