गांधी के आदर्शों को जीवन में उतारें…सांसद साव ने संकल्प यात्रा के बीच कहा…मिलकर लड़ेंगे पर्यावरण के दुश्मनों से जंग

बिलासपुर—- राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और उनकी विचारधारा आज भी प्रासंगिक है। उनके आदर्शो और विचारों को अपने जीवन में उतारने का संकल्प लेना होगा। लोगों को मिलजुलकर गांधी के भारत को साकार करना होगा। यह बाते बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र के सांसद अरूण साव ने कही।
                  भाजपा राष्ट्रीय नेतृत्व के आव्हान पर विश्व प्रसिद्ध देवी महामाया मंदिर रतनपुर पहुॅचकर अरूण साव ने पूजा अर्चना और आर्शीवाद प्राप्त किया। माता की आराधना के बाद अरूण साव ने गांधी संकल्प यात्रा का शुभारंभ किया। संकल्प यात्रा के दौरान सांसद साव ने भाजपा कार्यकर्ताओं के पदाधिकारियों के साथ रतनपुर, कोटा मंडल के विभिन्न वार्डो का भ्रमण किया। पदयात्रा के माध्यम से साव ने आमजनों से रूबरू होकर गांधी जी के आदर्शो विचारों और भारत नवनिर्माण की जानकारी दी।
              गांधी जी के आदर्शो और बताए मार्गो पर चलने का आव्हान करते हुए साव ने कहा कि केन्द्र सरकार ने देश के सर्वांगिण विकास का संकल्प लिया है। वर्तमान में बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण को लेकर साव ने चिंता जाहिर की। उन्होने कहा कि हम सब को मिलकर प्लास्टिक उपयोग एकजुट होने की जरूरत है।  जल संवर्धन की दिशा में आम जनमानस की सहभागिता की जरूरत है।
                साव ने लोगों से आव्हान किया कि हमें अपने जीवन को सादगी से जीना चाहिए। प्रेम भाईचारा को अपने बीच बढ़ाना होगा। इसके जरूरी है कि हम लोगों को  अच्छी पुस्तके, साहित्य, ग्रंथ, गीता, रामायण पढ़ने के लिए प्रेरित करे।

                  गांधी संकल्प यात्रा में भाजपा जिला महामंत्री घनश्याम कौशिक, भाजपा जिला उपाध्यक्ष मोहित जायसवाल, कन्हैया यादव, घनश्याम रात्रे, लवकुश कश्यप, तिरिथ यादव, संतोष तिवारी, दुर्गा कश्यप, लखन पैकरा, अरविंद जायसवाल, रविन्द्र दुबे, दुर्गेश पाण्डेय, रवि ठाकुर, प्रभुनाथ साव, प्रेमलता तम्बोली, मनीता भानू, रोहणी बैष्वाड़े, सावित्री रात्रे, अनिरूद्ध यादव, विष्णु इंदुवा, रामकुमार कश्यप, वासित अली, संतोष यादव, सीताराम, शिवेन्द्र गुप्ता, महेन्द्र निर्मलकर, नीतू सिंह, सविता धीवर, ज्वाला कौशिक, केशव इंदुवा, दुर्गा शंकर, अजय महावर, दिलीप यादव, सरिता कमल सेन, दिनेश प्रभाकर, दिनेश पहाड़िया, मन्नू पाटले, विजय कोशले सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *