पदयात्रा में बोले प्रदेश महामंत्री…लड़ाई गांधी और गोडसे के विचारों के बीच..एक तरफ गांधी को मानने वाले..दूसरी तरफ गांधी को मारने वाले

बिलासपुर—प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर्व प्रदेश में इन दिनों धूम धाम से मनाया जा रहा है। बुधवार को शहर कांग्रेस, ब्लाॅक कांग्रेस कमेटी 1, 2,3 और 4 ने संयुक्त रूप से गांधी विचार पद यात्रा का आयोजन किया। बाल्मिकी चौक शनिचरी बाजार से पदयात्रा रामधुन के साथ प्रांरभ हुई। पदयात्रा के पूर्व कांग्रेसियों ने बाल्मिकी प्रतिमा पर माल्यापर्ण कर श्रद्धा सुमन भेंट किया।

                             गांधी पदयात्रा के दौरान रामधुन के साथ कांग्रेसी शनिचरी बाजार पचरी घाट, किलावाड, जूना बिलासपुर देवांगन मोहल्ला, कतियापारा, होते हुए गांधी चौक पहुंचे। गांधी प्रतिमा  पर माल्यार्पण कर यात्रा का समापन किया। पदयात्रा के दौरान बिलासा की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। शनिचरी चौक किलावार्ड चौक साव धर्मशाला चौक और उदई चौक में सभा  का आयोजन किया गया। उदई चौक सभा को बैजनाथ चन्द्राकर, विजय पाण्डेय, एस.पी.चतुर्वेदी, रविन्द्र सिंह , नरेन्द्र बोलर ने संबोधित किया। सभा में स्थानीय महिलाएं भी शामिल हुई। महिलाओं ने गांधी की आरती अपनी श्रद्धा को जाहिर किया।

                     सभा के बाद कांग्रेसियों की पदयात्रा टीम गांधी चौक पहुंची। पदयात्रा मं प्रदेश कांग्रेस प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन ने शिरकत किया। प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन विधायक शैलेष पाण्डेय महामंत्री अटल श्रीवास्तव शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर जिला अध्यक्ष विजय केशरवानी ने महात्मा गांधी को माल्यार्पण कर नमन् किया। इस दौरान सभा को महामंत्री अटल श्रीवास्तव पूर्व विधायक चंद्र प्रकाश वाजपेयी विधायक शैलेष पाण्डेय और गिरीश देवांगन ने संबोधित किया।

                         गिरीश देवांगन ने कहा कि 11 अक्टूबर से सभी ब्लाकों में गांधी विचार यात्रा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम की अगुवाई में शुरू हुई। इस दौरान राष्ट्रपिता गांधी के विचारों को जन-जन तक पहुंचाया गया। देवागन ने कहा कि 4 अक्टूबर से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और अध्यक्ष मोहन मरकाम के नेतृत्व में धमतरी के कंडेला गांव से प्रदेशव्यापी पद यात्रा प्रारंभ हुई। देवांगन ने बताया कि छत्तीसगढ़ में पहला प्रवास नहर सत्याग्रह को लेकर कंडेला ग्राम में 1932 में हुआ था।

                  देवांगन ने कहा कि आज पूरा देश मंदी के दौर से गुजर रहा है। लेकिन छत्तीसगढ़ की जनता मंदी के दौर से अछूती है। सरकार बनते ही भूपेश बघेल ने किसानों का कर्ज माफ किया। समर्थन मूल्य 2500 रूपए किया। देवांगन ने बताया कि एक तरफ गांधी को मानने वाले है… और एक तरफ गांधी को मारने वाले है। आजकल देश में लडायी गांधी और गोडसे विचार के बीच चल रही है।

                               कार्यक्रम का संचालन अभय नारायण राय और ऋषि पाण्डेय ने किया। यात्रा के दौरान ब्लाॅक अध्यक्ष तैय्यब हुसैन अरविन्द्र शुक्ला अजय यादव, विनोद साहू, पूर्व विधायक चंद्र प्रकाश वाजपेयी पूर्व बी.डी.ए अध्यक्ष शेख गफ्फार, प्रदेश महामंत्री वाणी राव पूर्व महापौर राजेश पाण्डेय ए.आई.सी.सी सदस्य विष्णु यादव प्रदेश सचिव विवेक वाजपेयी प्रमोद नायक महेश दुबे रविन्द्र सिंह नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन उपनेता राजेश शुक्ला पार्षद शैलन्द्र जायसवाल रामा बघेल, दीपांशु श्रीवास्तव, पुष्पा दुबे, शहजादी कुरैशी, भागीरथी यादव, पंचराम सूर्यवंशी, शहर महामंत्री धर्मेश शर्मा दंेवेन्द्र सिंह बाटू राजू खटिक कमलेश दुबे अखिलेश बाजपेयी युवा कांग्रेस से जावेद मेमन सुभाष ठाकुर बसंत शर्मा कृष्ण कुमार यादव, सीमा पाण्डेय, आशा पाण्डेय, अनु पाण्डेय,  अमना खान अफरोज बेगम मंजू त्रिपाठी सीमा सोनी अलका शर्मा तरूणा शर्मा शकंुतला साहू, अन्नपूर्णा साहू, कुंती बरगढे, अजय काले संदीप वाजपेयी संजय साहू आनंद कश्यप इकबाल हुसैन सूर्या कश्यप हफीज कुरैशी, जसबीर गुम्बर गणेश रजक सुभाश श्रीवास्तव तरूण तिवारी विजय सारथी सालिकराम यादव हरविन्दर शुक्ला महंत चेतन दास मुस्कान साहू, सरोजनी लहरे, गोवर्घन श्रीवास्तव करण गोरख, राम दुलारे दजक ,पिंकू पाण्डेय , सुरजीत मिश्रा, बद्री यादव, रंजीन खनूजा बाबा शहजादा , प्रखर सोनी राकेश हंस, दिनेश जैन, रमेश यादव, अब्दुल खान, राजा व्यास अशोक साहू डाॅ. संजय जायसवाल विक्की आहूजा, अर्जुन सिंह शेखर मुगदलियार उदय सिंह, संजय पिल्ले, नवीन दुबे, सुभाश अग्रवाल, पूर्णिमा मिश्रा रेखा ताण्डी, जयश्री शुक्ला आयशा कुरैशी प्रीति गढेवाल पिंकी बतरा, शेखर राव शंकर यादव, महेत राम , हर्ष परिहार मनोज शर्मा, सुबोध केषरी प्रसांत पाण्डेय दिनेश सीरिया राकेश सिंह अप्पू तिवारी राजू देवागंन शैलेष मिश्रा, अनिल शुक्ला शैलेश श्रीवास सुशीला खजूरिया, तिप्ती चन्द्रा जहूर अली कमल गुप्ता, सीताराम जायसवाल नीलेश माढेवार अभिशेक मेढेकर जितेन्द्र दुवा, रामगोपाल बोलर, उपस्थित थे। 17 अक्टूबर को सभी ब्लाक में पदयात्रा का अंतिम आयोजन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *