सीपत के किसानों से अभियान का आगाज…मात्र एक घंटे में सैकड़ों ने लिखा पीएम को पत्र…विजय ने बताया..भूमिपुत्रों में जबर आक्रोश

किसानों से फार्म भरवाते जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी।

बिलासपुर—जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी ने बताया कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिले के एक एक किसानों तक पहुंचकर प्रधानमंत्री के नाम पत्र लिखवाएंगे। केन्द्र सरकार की किसान विरोधी रीती और नीति की जानकारी देंगे। जिले के सभी किसानों का प्रधानमंत्री के नाम लिखा पत्र रायपुर भेजा जाएगा। इसके बाद प्रदेश के मुखिया और संगठन प्रमुख की अगुवाई में किसान और कांग्रेस नेता प्रधानमंत्री को पत्र देने दिल्ली कूच करेंगे। केशरवानी ने यह बातें सीपत ब्लाक स्थित नवाडीह में किसानों के बीच कही।

                    प्रदेश मुखिया भूपेश और पीसीसी प्रमुख मोहन मरकाम के निर्देश पर आज बिलासपुर जिले के सभी ब्लाक में बैठक हुई। बैठक में ब्लाक अध्यक्षों ने बूथ, जोन और सेक्टर स्तर के प्रभारियों को प्रधानमंत्री को लिखे जाने वाले पत्र का फार्मेट पत्र दिया। प्रभारी कांग्रेस नेताओं ने किसानों के बीच पहुंचकर पत्र भऱवाने का अभियान शुरू किया। 

                 जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी ने सीपत ब्लाक के नवाडीह चौक में किसानों से प्रधानमंत्री को पत्र लिखवाकर अभियान का आगाज किया।  इस दौरान जिला कांग्रेस अध्यक्ष ने व्यक्तिगत रूप से किसानों से रूबरू होकर केन्द्र सरकार की किसान विरोधी रीति नीती की जानकारी दी।

                    विजय ने कहा कि प्रदेश सरकार ने भूपेश बघेल की अगुवाई में वादा पूुरा करते हुए किसानों का धान 2500 रूपए के समर्थन मूल्य में खरीदा। इस साल भी सरकार किसानों का धान  2500 रूपए प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीदेगी। लेकिन केन्द्र सरकार ने कहा है कि यदि भूुपेश बघेल ने इस दर पर धान खरीदा तो चावल की खरीदी नहीं करेंगे। इतना ही नहीं एमएसपी दर भी नहीं देंगे।

                        मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा कि हमने वादा किया है। इसलिए किसानों क धान 2500 रूपए की दर खरीदेंगे। लेकिन केन्द्र सरकार मानने को तैयार नहीं है।

                 विजय केशरवानी ने बताया कि किसानों का भूपेश बघेल के प्रधानमंत्री को पत्र लिखो अभियान को पहले हे दिन जबरदस्त समर्थन मिला है। नवाडीह चौक पर आयोजित सभा में हजारों किसानों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर धान का समर्थन मूल्य 2500 रूपए दिए जाने की मांग की। विजय के अनुसार किसानों ने कहा कि यदि प्रदेश के मुख्या चाहेंगे तो हम लोग भी दिल्ली चलने के लिए तैयार हैं। इसके अलावा जरूरत हुई तो धरना प्रदर्शन के लिए भी तैयार है। 

                विजय ने जानकारी दी कि अभियान को लेकर किसानों में जबरदस्त उत्साह और केन्द्र सरकार की किसान विरोधी रीति नीति को लेकर आक्रोश है। आज मात्र कुछ घंटों में देखते ही देखते सैकडों किसानों ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा। जिले के सभी ब्लाकों के बूझ.जोन और सेक्टर से मिले पत्र को एकत्रित कर 11 नवम्बर को रायपुर भेजा जाएगा। 13 नवम्बर को भूपेश बघेल और मोहन मरकाम की अगुवाई में कांग्रेसियों के साथ किसान दिल्ली कूच करेंगे। इसके पहले ब्लाक,जिला और राज्य स्तर पर केन्द्र सरकार के किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ किसानों के साथ धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...