बीजेपी मिट जाएगी पर किसान नही झुकेंगे,भक्त चरणदास की ललकार,कालाधन लाने का झांसा देकर विदेश भेज रहे रुपया

बिलासपुर—-शहर और बिलासपुर के चारो ब्लाक कांग्रेस 01,02,03,और 04 के नेताओं ने पुराना बस स्टैंड स्थित चौक में केंद्र सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया । प्रदर्शन  में छत्तीसगढ़ के पर्यवेक्षक ,राष्ट्रीय प्रवक्ता पूर्व केंद्रीय मंत्री भक्त चरण दास ने हिस्सा लिया। उपस्थित लोगों को संबोधित किया। केंद्र सरकार के जन विरोधी नीतियों की जमकर आलोचना करते हुए केन्द्र सरकार की कथनी और करनी में भारी भेद होना बताया। 
 
               अपने संबोधन में चरणदास ने कहा कि देश गम्भीर वित्तीय संकट के दौर से गुजर रहा है। अफसोस केंद्र सरकार ने संकट से निपटने के लिए कोई ठोस कदम नही उठाया है। किसान ,मजदूर,व्यापारी,आम जन के जीवन मे सुधार हो..केन्द्र सरकार कुछ भी प्रयास नहीं कर रही है।
 
              भक्त चरणदास ने कहा कि भाजपा कहती थी 30 लाख करोड़ काला धन विदेश से लाएंगे। लेकिन हो उल्टा रहा है। देश के पूंजीपति गरीबों का पैसा लेकर विदेश भाग रहे है। नोटबन्दी में भ्रष्टाचार,आतंकवाद रोकने के नाम पर 1000  के नोट बन्द किये। 2000 क नोट कर भ्रष्टाचार को नए सिरे से बढ़ावा दिया गया। आज 2000 के नोट केवल कालाधन के लिए प्रयोग हो रहा है।
  
              चरणदास ने कहा कि स्वामीनाथन आयोग लागू करने की बात भाजपा करती थी। ,किसानों की आय दुगनी की करने का सपना दिखाया गया। आज छत्तीसगढ़ के किसानों का धान को 1815 रुपये और 1835 रुपये प्रति क्विंटल से एक पैसा अधिक खरीदने पर केंद्रीय पूल का चावल नही लेने की धमकी मोदी सरकार दे रही है। युवाओ को मोदी -मोदी कहलाया गया.. उनके हिस्से की नौकरी,रोजगार छीन लिया लिया गया। देश घोर आर्थिक संकट से गुजर रहा है। मंदी की स्थिति पैदा की गयी है। नोटबन्दी, अव्यवहारिक जीएसटी, समेत अनेक करारोपण से जनता परेशान है। व्यवस्था से निपटने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है।
 
           चरणदास ने बताया कि इंदिरा गांधी ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण कर युवाओ,बेरोजगारों,व्यपारियो ,किसानों को सस्ती ऋण मुहैया कराया। लेकिन मोदी सरकार के गलत नीतियों के चलते राष्ट्रीयकृत बैंक डूब रहे है। एनपीए की कीमत आज 8 लाख करोड़ से ऊपर है। देश मे 25000 बैंकिंग के मामले हुए है। 1 करोड़ 74 लाख करोड़ की लूट हुई है। 3.50 लाख करोड़ की ऋण माफी चन्द उद्योगपतियो का किया गया है।  मोदी ने रिजर्व बैंक की आपातकालीन कोष से 3.89 लाख करोड़ निकाल लिया। 29 साल ष बाद रिजर्व बैंक का सोना बेचना पड़ रहा है। डॉलर की तुलना में रुपये का मूल्य गिरता जा रहा है। लेकिन केन्द्र सरकार केवल गाल बजाने का काम कर रही है।
 
           केन्द्रीय पर्यवेक्षक ने बताया कि जब पूरा देश मंदी के चपेट में है ,छत्तीसगढ़ इससे अछूता है। भपेश सरकार ने वादे के अनुसार किसानों का धान 2500 रुपये प्रति क्विंटल में खरीदा है।  किसान समृद्ध हुए हैं। व्यापार बढ़ा है। लोगो को रोजगार मिला है। ,छत्तीसगढ़ मे ऑटोमोबाइल समेत सभी क्षेत्र आर्थिक मंदी से पूरी तरह से दूर है। भपेश सरकार ने 35 हजार करोड़ रूपए किसानों को बांटा। जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी तो कृषि का जीडीपी में हिस्सा 5 की भागीदारी थी। आज घटकर 1.50 प्रतिशत हो गया है।
 
             छत्तीसगढ़ सरकार ने किसानों को 2500 रुपये कीमत दी है। उसकी मांग पूरे देश मे उठ रही है। यही कारण है कि मोदी सरकार छत्तीसगढ़ सरकार से केंद्रीय पूल का चावल लेने से इन्कार कर रही है। हम किसानों की अंतिम लड़ाई लड़ने को तैयार हैं।भक्त चरण दास ने ललकारते हुए कहा कि सुधर जाओ,सम्भल जाओ,छोड़ो मिटाना,झुकाना । किसानों को झुकने नही दिया जाएगा। क्योंकि किसानों ने कहना शुरू कर दिया है कि सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल मे है ,देखना है जोर कितना बाजू ए कातिल में है ।इस दौरान भक्त चरणदास ने क्रांतिकारियों के नारों को दुहराया। उन्होने कहा कि आवाज दो हम एक है -रुके न जो,झुके न जो,दबे न जो,मिटे न जो,वही हम इंकलाब है।
 
                  धरना को शहर विधायक शैलेश पांडेय,ज़िला अध्यक्ष विजय केशरवानी,शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर,पूर्व विधायक चन्द्र प्रकाश बाजपेयी, पूर्व शहर अध्यक्ष विजय पांडेय, प्रदेश सचिव विवेक बाजपेयी, प्रदेश प्रवक्ता अभय नारायण राय ने सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन शहर प्रवक्ता ऋषि पांडेय ने किया।
               
                    धरना स्थल पर प्रदेश सचिव महेश दुबे, प्रमोद नायक, राजेन्द्र शुक्ला, रविन्द्र सिंह, पंकज सिंह, कृष्ण कुमार यादव, वाणी राव,सन्ध्या तिवारी, शेख नजीरुद्दीन,राजेश शुक्ला,राधेभूत,विष्णु यादव,तैय्यब हुसैन,अरविंद शुक्ला, विनोद साहू,अजय यादव,राकेश शर्मा,शेखर मुदलियार,जुगल किशोर गोयल,देवेंद्र सिंह,राजू खटीक,कमलेश दुबे, सीमा पांडेय,आशा सिंह,आशा पांडेय,चित्रलेखा कंस्कार,अनुपमा मिश्रा,कुंती वरगरे,ओर्णिमा मिश्रा,तहरिमा,तृप्ति चन्दा,सरिता शर्मा,अनिल पांडेय,विक्की आहूजा,शैलेन्द्र जायसवाल,शहजादी कुरैशी,रमाशंकर बघेल ,एस डी कार्टर,तजम्मुल हक,पंचराम सूर्यवंशी,रमेश गुप्ता,पुष्पा दुबे,अजय काले,सुभाष ठाकुर,सुभाष सराफ,किशोर घोरे, सीताराम जायसवाल,मोह हफीज,कुन्दन काम्बले,सुशीला खजुरिया,मंजू त्रिपाठी,बबिता दुबे, अफरोज खान,हेमन्त दृघस्कर,सुदेश नन्दिनी ,अज़रा खान,जसबीर गुम्बर, पुष्पेंद्र मिश्रा,मनोज शर्मा,असलम,सावित्री सोनी,शिवा मुदलियार,रणजीत सिंह खनूजा,बजरंग बंजारे, वीरेंद्र सारथी,नीलेश मंडेवार,अर्जुन सिंह,अजय साहू,सुरजीत मिश्रा,अमित दुबे, अकबर अली,धर्मेंद्र शुक्ला,अजय पन्त,शाजी मैथ्यू,जय श्री शुक्ला,प्रशांत पांडेय सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस जन उपस्थित थे।  इस दौरान सभी नेताओं ने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष,पूर्व मंत्री ,शहीद नन्द कुमार पटेल की जयंती पर याद किया।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *