बिलासपुर में हवाई सेवा के लिए मुख्यमंत्री लिखें प्रधानमंत्री को पत्र, संघर्ष समिति ने सौंपा ज्ञापन

बिलासपुर—हवाई सुविधा जनसंघर्ष समिति ने मुख्यमंत्री मुख्य सचिव सीएम, विमानन छत्तीसगढ़ संचालक के नाम जिला प्रशानसन को पत्र दिया। समिति के सदस्यों ने पत्र में बिलासपुर को जल्द से जल्द हवाई सेवा सुविधा दिए जाने की मांग की। समिति ने जिला प्रशासन को दिए पत्र में बताया कि एक समय बिलासपुर से भोपाल के बीच वायु सेवा की सुविधा थी। लेकिन समय के साथ ध्यान नहीं दिया गया। और हवाई सुविधा से बिलासपुर वंचित हो गया।

                  जिला प्रशासन को सीएम और सचिव के नाम लिखे पत्र में समिति ने बताया कि हमें खुशी है कि मुख्यमंत्री ने केन्द्र सरकार को बिलासपुर में हवआई सुविधा को लेकर पत्र लिखा है। बेहतर होगा कि सीएम सीधे प्रधानमंत्री और विमानन मंत्री से संवाद करें। ऐसा कर बिलासपुर को जल्द से जल्द हवाई सुविधा प्रदान करवानें में सहयोग करें.।

            संघर्ष समिति ने बताया कि बिलासपुर वासियों को पटना,लखनऊ,रांची या बनारस से कहीं अधिक दिल्ली,मुम्बई,कोलकाता,बैंगलुरू हवाई सेवा की जरूरत है। छत्तीसगढ़ की आधी से अधिक आबादी उत्तर क्षेत्र में निवास करती है। उत्तर क्षेत्र के सभी जिले कमोबेश बिलासपुर से लगे हैं। बिलासपुर से कोरबा,जांजगीर और सरगुजा संभाग लगा हुआ है। सबको बाहर जाने के लिए रायपुर से विमान लेना पड़ता है। जबकि यह सुविधा बहुत पहले बिलासपुर से दी जा सकती थी। लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया। यह जानते हुए भी कि रायपुर से बाहर जाने वाले यात्रियों में 40 प्रतिशत से संख्या बिलासपुर संभाग से है। 

                अपने पत्र में समिति के प्रतिनिधिनियों ने बताया कि बिलासपुर एअरपोर्ट को सर्वसुविधायुक्त बनाने के लिए कम से कम 150 करोड़ की जरूरत होगी। इतनी बड़ी राशि केन्द्र और राज्य सरकार के प्रयास से ही संभव है। साथ ही केन्द्र सरकार पर दबाव भी डालना होगा।   

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...