चीफ सेक्रेटरी आरपी मंडल ने दिये अवैध धान परिवहन व जमा किए धान पर सख्ती से कार्यवाही के निर्देश,गड़बड़ी होने पर उप पंजीयक-सहायक पंजीयक पर होगा FIR

सड़क मरम्मत के कार्यों को प्राथमिकता से करने के निर्देश
सफाई अभियान सतत् जारी रहे
बिलासपुर। समर्थन मूल्य पर धान खरीदी में किसी प्रकार की गड़बड़ी न हो, इसे गंभीरता से लें और पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित करें। मुख्य सचिव आर.पी.मंडल ने बिलासपुर संभाग में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की समीक्षा करते हुए उक्त निर्देश दिए।मुख्य सचिव ने कहा कि समर्थन मूल्य पर धान खरीदी किसानों के हित में प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा लिया गया निर्णय है। जिले के कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक विशेष ध्यान दें। जिलों के सीमा क्षेत्र, वनमार्ग में सतत् निगरानी रखें। ताकि बाहर से धान न आने पाएं। इसी तरह एक जिले से दूसरे जिले में भी धान न जाय। पुलिस अधीक्षक अपने सूचना तंत्र को और अधिक सुदृढ़ करें। सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए

उन्होंने कहा कि किसानों के रकबा का मिलान धान खरीदी के पूर्व पूर्ण कराएं। ताकि वास्तविक किसानों से धान खरीदी हो सके। अवैध धान परिवहन एवं जमा किए धान पर भी सख्ती से कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। मुख्य सचिव ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि सड़क मरम्मत के कार्यों को प्राथमिकता के साथ तत्काल पूर्ण कराएं।

इस कार्य को कलेक्टर सतत् निगरानी करें। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों से भी कहा कि सफाई अभियान सतत् जारी रहे। इसे बंद न होने दें। संभागीय कमिश्नर से कहा कि संभाग से सभी पांचों जिलों में सफाई व्यवस्था बनी रहे, इस पर विशेष ध्यान दें। यह काम लोगों को दिखना चाहिये।

गृह सचिव सुब्रत साहू ने कहा कि पुलिस अधीक्षक जिला प्रशासन से कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करें। अवैध धान परिवहन अंतरराज्यीय सीमा एवं अंतर जिला में नहीं होना चाहिये। इस पर सतत् निगरानी रखें और प्रति सप्ताह प्रतिवेदन गृह सचिव एवं खाद्य निरीक्षक को भेजें।

उन्होंने कमिश्नर, आईजी, कलेक्टर एवं एस.पी.को समन्वय से कार्य करने पर विशेष जोर दिया। खाद्य सचिव डाॅ.कमलप्रीत ने कहा कि धान खरीदी में गड़बड़ी होने पर उप पंजीयक एवं सहायक पंजीयक के विरूद्ध सीधे एफ.आई.आर.की जाएगी। उन्हांेने सख्त हिदायत देते हुए कहा कि गड़बड़ी करने वालों की सूची तत्काल जिला कलेक्टर को उपलब्ध कराएं।

स्वास्थ्य सचिव निहारिका बारिक ने कहा कि हाट-बाजार स्वास्थ्य योजना एवं स्लम एरिया स्वास्थ्य योजना को विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि इंद्रधनुष योजना अब हर जिले में लागू किए जाएंगे। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी समीक्षा कर लें। महिला एवं बाल विकास सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी ने सुपोषण अभियान की जानकारी देते हुए कहा कि केवल भोजन से न जोडें, कुपोषण स्वास्थ्य के कारण भी होता है। संबंधित विभाग समन्वय से कार्ययोजना बनाकर कार्य करें।

मार्फेड के एम.डी. शम्मी आबिदी ने कहा कि समर्थन मूल्य पर धान खरीदी में पुराने बारदाने पर विशेष ध्यान दें। कोचियों के पास मार्फेड का मार्क लगा बारदाना नहीं मिलना चाहिये, इस पर विशेष ध्यान दें। संदिग्ध समितियों को दिन में तीन बार जांच करायें। प्रत्येक दिन अलग-अलग टीम जांच करें। बैठक में पौध रोपण के लिये अभी से तैयारी करने के निर्देश दिए गए। बैठक में कमिश्नर बी.एल.बंजारे, कलेक्टर बिलासपुर डाॅ.संजय अलंग, मुंगेली कलेक्टर डाॅ.भूरे, कोरबा कलेक्टर किरण कौशल, जांजगीर कलेक्टर जनक पाठक, रायगढ़ कलेक्टर यशवंत कुमार, सीईओ जिला पंचायत एवं संबंधित विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...