हवाई सेवा आंदोलनः बिलासपुर अधिकार लेना जानता है..मसीही समाज ने कहा..मांग पूरी होने तक करेंगे संघर्ष

बिलासपुर—हवाई सुविधा जन संघर्श समिति के अखंड धरना आंदोलन के 34 वें दिन मसीही समाज ने धरना स्थल पहुंचकर समर्थन किया।

               एयरपोर्ट आंदोलन का समर्थन व्यक्त करते हुए मसीही समाज बिलासपुर की तरफ से पादरी अनुराग नथानिएल ने कहा कि बिलासपुर एयरपोर्ट क्षेत्र की जरूरत है। खेद का विषय है कि हजारों करोड राजस्व देने वाले बिलासपुर अंचल को आंदोलन के लिय बाध्य होना पड रहा है। महिला प्रतिनिधि एंजेलिना राज ने कविता पाठ कर बिलासपुर हवाई सेवा की मांग का समर्थन किया। समाज के वरिष्ठ एम.डी.जेम्स ने कहा कि छत्तीसगढ राज्य बनने के बाद उम्मीद थी कि बिलासपुर का तेजी से विकास होगा। लेकिन सभी सरकारों ने केवल रायपुर के आस-पास ही विकास को केन्द्रित रखा। ने बिलासपुर में 4 सी केटेगरी एयरपोर्ट बनाने का पुरजोर समर्थन किया।

                   कार्यक्रम को जयदीप राबिनसन ने संबोधित किया। उन्होने कहा कि उत्तर छत्तीसगढ के 12 जिलों में हवाई सुविधा के लिए उचित व्यवस्था नही होने के लिए केवल सरकार दोषी है। राज्य निर्माण के 19 साल बाद भी आम जनता को आंदोलन पर बैठना पड़ रहा है। यह अब तक के विकास पर प्रश्न चिन्ह लगाता है। समाज की तरफ से अलका नथालिएल ने अपनी बातों को रखा। उन परिवारों की व्यथा पेश किया जिनके बच्चे छुट्टियों में भी अपने घर नही आ पाते।

              तखतपुर के श्याम मूरत कौशिक ने कहा कि चकरभाठा एयरपोर्ट न केवल बिलासपुर जिला बल्कि मुंगेली-जांजगीर-चांपा-बलौदा बाजार और बेमेतरा जिले के केन्द्र में स्थित है। यहां से हवाई सुविधा होने पर शीघ्र  रायपुर एयरपोर्ट का मुकाबला करेगा। कौशिक ने कहा कि बिलासपुर के लोग लडकर अपना हक लेना जानते है। सभा के अंत में मसीही समाज की तरफ से डी ख्रीस्ट ने ईश्वर से प्रार्थना कर बिलासपुर एयरपोर्ट की मांग जल्द से जल्द पूरी होने और अखण्ड धरना मे शामिल सभी साथियों पर प्रभु का आशीष बनाये रखने को कहा।

                        धरना स्थल पर समाज की तरफ से ए.डेनियल, ए.डी.जेम्स, संजीव पुनवा, पादरी अनुराग नथालियल, अलका नथानिएल, एस.के.दास, पादरी डेजिस ख्रीश्ट, मनीष बबलू जार्ज, न्यूटन मसीह, अरूणा मरोस, एस.विलसन, लारेन्स राबर्ट, अनीश, विनीत मसीह, आरनल्ड और  भोलाराम कश्यप,रूकमणी कौशिक शामिल हुये। समिति की ओर से आज आंदोलन में आंदोलन में अशोकक भण्डारी, महेश दुबे-टाटा, रामशरण यादव, केशव गोरख, बद्री यादव.शेख अल्फाज-फैजू, ओमप्रकाष गुप्ता, कप्तान खान, गोपाल दुबे, धर्मेश शर्मा, समीर अहमद, प्रमोद नायक, नवीन वर्मा, अनिल शुक्ला, भुवनेश्वर वर्मा, अशोक अरोरा, अजीत सिंह अरोरा और सुदीप श्रीवास्तव मौजूद थे।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...