इंजीनियर पर गिरी गाज..संसदीय मंत्री ने कहा होगी जांच…ध्यानाकर्षण में शैलेष ने बताया..अभियांत्रिक इंजीनियर ने दी सदन को गलत जानकारी

सरकारी बैंक, किसान, कर्ज माफी,chhattisgarh,farmer,loan,government bank

रायपुर— बिलासपुर विधायक शैलेष पांडेय के ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पेश किया। सरकार ने  गलत जानकारी देने वाले लोक स्वास्थ्य अभियांत्रिक विभाग के इंजीनियर को निलंबित कर दिया। मंत्री रविन्द्र चौबैे ने पूरे मामले की जांच ईएनसी से कराने का एलान किया है।

                 सदन में बिलासपुर विधायक शैलेष पांडेय ने बिलासपुर में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था को लेकर प्रस्ताव पेश किया। पाण्डेय ने बताया कि बिलाससपुर में अब तक शुद्ध पेयजल को लेकर 100 करोड़ से अधिक रूपए खर्च हो चुके हैं। बावजूद इसके अब तक बिलासपुर की जनता को पीने का साफ़ पानी नसीब नहीं है। मजबूर जनता को सिवरेज का पानी दूषित पानी पीना पड़ रहा है। नागरिक बीमार और परेशान हैं। 

                 ध्यानाकर्षण प्रस्ताव में शैलेष पाण्डेय ने बताया कि विभाग ने सरकार को पेयजल सुविधा को लेकर ग़लत जानकारी दी है। उन्होने कहा इस पर आंख बन्द कर विश्वास नहीं किया जा सकता है।
 
                 शैलेष ने कहा कि सदन को ग़लत जानकारी देने वाले अधिकारी पर कड़ी कार्यवाही की जाए। इसके बाद संसदीय कार्यमंत्री रविंद्र चौबे ने सदन में एलान किया कि सदस्य का उठाया गया विषय और लाई गई आपत्ति बहुत गंभीर है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के इंजीनियर संजीव ब्रम्हपुरिया को निलंबित करता हूँ। साथ ही पूरे मामले की जाँच ईएनसी से कराने की घोषणा करता हूं। यदि इंजीनियर या विभाग दोषी पाया जाता है तो सख्त कार्रवाई होगी।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...