कांग्रेस ने जनता से छीन लिया एक वोट का अधिकार….. प्रेम प्रकाश बोले – यह बड़ा मुद्दा है….. चुनाव मे जनता देगी कांग्रेस को जवाब

बिलासपुर । पहले नगरीय निकाय चुनाव में मतदाताओँ को दो वोट देने का अधिकार था। लेकिन छत्तीसगढ़ में सरकार ने जनता से एक वोट का अधिकार छीन लिया है । यह नगरीय निकाय चुनाव में बीजेपी का सबसे बड़ा मुद्दा है और इस आधार पर बीजेपी को चुनाव में बड़ी जीत की उम्मीद है । बीजेपी इस चुनाव के लिए अपना घोषणा पत्र जारी करेगी। जिसमें शहरी क्षेत्र के तमाम मुद्दों को शामिल किया जाएगा ।

बिलासपुर में नगर निगम क्षेत्र के कार्यकर्ताओं की बैठक के बाद पूर्व मंत्री और बिलासपुर नगर निगम के चुनाव के लिए बीजेपी के प्रभारी प्रेम प्रकाश पांडे ने संवाददाताओं से यह बात कही। उन्होंने कहा कि पिछले 1 साल में छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार किस तरह काम कर रही है ।यह सबके सामने है। शहरी क्षेत्र के लोगों के लिए सबसे बड़ा मुद्दा यह है कि सरकार ने जनता को वोट देने का अधिकार छीन लिया है । पहले शहरी क्षेत्र के मतदाता एक वोटपार्षद और एकवोट महापौर के लिए देते थे । आज लोकतंत्र में अधिकार बढ़ाने की बात हो रही है । लेकिन छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार लोगों का अधिकार छीन रही है। जिस तरह से वोट देने का अधिकार जनता से छीना गया है । इससे मतदाताओं में बड़ी नाराजगी है और भाजपा यह मुद्दा लेकर लोगों के बीच जाएगी ।

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि मेयर का चुनाव अप्रत्यक्ष तरीके से कराने के पीछे प्रमुख कारण यही है कि पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा। इसलिए वे सीधे जनता का सामना नहीं कर सकते ।जिसे देखते हुए लोगों से एक वोट का अधिकार छीन लिया है ।चुनाव में जनता इसका जवाब देगी। उन्होंने कहा कि इस तरह के तमाम मुद्दों को लेकर भाजपा नगरीय निकाय चुनाव के लिए अपना घोषणा पत्र जारी करेगी। जिसमें धान का मुद्दा भी अहम होगा ।उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पिछले विधानसभा चुनाव में लोगों को धोखे में रखकर जीत हासिल की थी। लेकिन एक साल में उनका सच सामने आ गया है ।

यह पूछे जाने पर कि उन्होंने अपनी बैठक में यह बात क्यों कही कि- मेरा काम 3 तारीख के बाद शुरू होगा ……..? इस पर प्रेम प्रकाश पांडे ने जवाब दिया कि प्रभारी की जिम्मेदारी टिकट वितरण के बाद ही शुरू होती है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा में मंडल से लेकर संभागीय समितियों तक अलग-अलग स्तर पर जिम्मेदारियां बांटी गई है ।इसलिए टिकट वितरण में किसी तरह की दिक्कत नहीं आएगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *