मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने कहाः उपचारात्मक शिक्षा की जरूरत… शिक्षकों को पालकों से संवाद की जरूरत

कांकेर—- पालक बालक सम्मेलन में पहुंचे डॉक्टर संजय कन्नौजे ने पालकों से कहा कि बच्चों को मोटिवेट कर स्तर सुधारने का प्रयास करें। शिक्षकों से बताया कि छात्रों का लर्निंग आउटकम स्तर जांचा कर लक्ष्य के प्रति अभिरूची पैदा करें। 
      
         कांकेर कलेक्टर के. एल. चौहान के मार्गदर्शन में जिले के सभी शालाओं में माह के अंतिम शुक्रवार को पालक बालक सम्मेलन का आयोजन किया गया। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ. संजय कन्नौजे ने माध्यमिक शाला माकड़ी खुना और शासकयी उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय मुरडोंगरी में औचक किया। पालक बालक सम्मेलन में सम्मिलित होकर बच्चों के साथ संवाद किया।
 
                डॉ.कन्नौजे ने कक्षा छठवीं सातवीं आठवीं नवीं के बच्चों से सवाल जवाब किया। बच्चों से पूछा कि बड़े होकर क्या बनने की इच्छा रखते हैं। पूछे गए सवाल का छात्रों ने मासूमियत के साथ जवाब भी दिया। इस दौरान जिला पंचायत सीईओं ने गणित, अंग्रेजी विषय का मूल्यांकन किया। छात्रों से सवाल का जवाब भी दिया। 
 
       सीईओ ने इस दौरान शिक्षकों को निर्देश दिया कि कमजोर बच्चों के लिए विशेष उपचारात्मक शिक्षा की रणनीति तैयार करें। मोटिवेट करते हुए पालकों से शिक्षक लगातार संम्पर्क में रहें।   बच्चों को  कोर्स को नियमित रूप से 2 से 3 घंटे  अध्ययन के लिए प्रेरित करें। 
 
                 खंड शिक्षा अधिकारी भुवन जैन ने शिक्षकों को अध्ययन स्तर सुधारने के लिए कहा। साथ ही  छात्रों का स्तर कक्षानुरूप हो इसके लिए विशेष प्रयास की बात कही। इस दौरान अधिकारियों की मौजूदगी ने शिक्षकों ने बच्चों को शिक्षा के प्रति लगाव उत्पन्न करने चाकलेट  वितरण किया।
 
              माकडी में शाला समिति की तरफ से भवन मरम्मत की मांग पर डॉ. कन्नौजे ने जिला शिक्षाअधिकारी के माध्यम से मांग को स्वीकार किया। कार्यक्रम में शासकीय हाईस्कुल माकडी, माध्यमिक शाला माकडी, प्राथमिक शाला और शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक शाला  मुरडोंगरी के छात्र शिक्षक और बडी संख्या में पालक मौजूद थे। शाला समिती के अध्यक्ष लखन नेताम,सरपंच मुरडोंगरी केशव मंडावी, प्राचार्य रचना श्रीवास्तव, बीआरसी डी के भास्कर सीएसी हेमेन्द्र साहसी हीरामन कुंजाम शकुंतला ठाकुर आर. एन. जैन मंडावी, नंदकुमार अठभैया, भूषण जैन, रत्ना साहु, निरंजना टेकाम समेत समस्त शिक्षक मौजूद थे।

Comments

  1. Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *