भगवान Archive

गजेन्द्र मोक्ष कथा का भक्तों ने लिया आनंद..नंदलाल का किया जयघोष

बिलासपुर—-ग्राम जलसो में श्रीमद् भागवत महापुराण ज्ञान यज्ञ सप्ताह चल रहा है। शुक्रवार को पं. अनिल शर्मा ने गजेंद्र मोक्ष, समुंद्र मंथन और श्रीकृष्ण जन्म प्रसंग का वर्णन किया। पं. शर्मा ने कहा कि जब-जब संसार में भक्तों पर विपदा आई, भगवान श्रीमन्न नारायण ने किसी न किसी रूप में अवतार लिया।  दुष्टों का संहार

धूम-धाम से मनायी गयी आदिशिल्पी की जयंती

बिलासपुर— हमेशा की तरह एसईसीएल मुख्यालय में आदिशिल्पी विश्वकर्मा भगवान की जयन्ती  धूमधाम के साथ मनायी गयी। इस मौके पर एसईसीएल के सभी अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे। अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक बी. आर. रेड्डी, निदेशक वित्त ए.पी. पण्डा, निदेशक कार्मिक डाॅ. आर.एस. झा, निदेशक तकनीकी संचालन  कुलदीप प्रसाद, निदेशक तकनीकी योजना/परियोजना पी.के. सिन्हा, श्रद्धा

भाई बहनों ने दिया दर्शन..आम और खास ने मांगा आशीर्वाद

बिलासपुर– रेलवे क्षेत्र स्थित स्थित उडिया समाज मंदिर से भगवान जगन्नाथ की सवारी निकली। डीजी होमगार्ड गिरधारी नायक ने भगवान जगन्नाथ का रथ खींचा। इस मौके पर उन्होने बलभद्र, सुभद्रा और जगन्नाथ से प्रदेश की खुशहाली और विकास का आशीर्वाद मांगा। उन्होने कहा कि भगवान का आशीर्वाद हमेशा सबके साथ रहता है। बिलासपुर हमेशा से

भाजपा राज्य में भगवान भी असुरक्षित..अमित

रायपुर—जिला मुख्यालय कबीरधाम से 25 किलोमीटर पर स्थिति डोंगरिया के जालेश्वर महादेव धाम के वर्षों पुराने प्राचीन स्वयंभू शिवलिंग को कुछ अज्ञात लोगों ने खंडित की घटना के बाद मरवाही विधायक अमित जोगी कवर्धा पहुंचे।  डोंगरिया के जालेश्वर महादेव धाम पहुंचकर दर्शन किया। इस मौके पर पंचायत प्रतिनिधियों और ग्रामीणों ने अमित जोगी से घटना

भक्तों ने किया हनुमान महिमा का रसपान

बिलासपुर– श्रीकांत वर्मा मार्ग स्थित मैदान में भक्तों ने रामायण महिमा का आनंद उठाया। हजारों की संख्या में आज भक्तों ने केवट-राम और महाबली हनुमान की कथा का श्रवण किया। इस मौके पर संत चिन्मयानंद स्वामी ने हनुमान की महिमा का जीवन्त चित्रण किया। साथ केवट के भक्ति भाव का बखान भी किया। स्वामी चिन्मयानंद

भगवान के जन्मोत्सव के आनंद में डूबा पंडाल..भक्तों ने किया जयघोष

बिलासपुर– बृत्ताससुर से मतलब बृत्त की आसुरी गुण से है। जिसका बृत्त बिगड़ा हो वही बृत्तासुर है। हमारी बृत्ति बिगड़ चुकी है।लोग आसुरी गुणों के शिकंजे में है। बृ्त्त अच्छी हो तो मानव जीवन सुर में हो जाता है। यह बातें आज श्रीमद् भागवत ज्ञान यज्ञ के व्यास पीठिका से अतुल कृष्ण महाराज ने कही।

दुनिया में केवल सत्य ही अमर -अतुल कृष्ण

बिलासपुर– जीवन चार पहिय़े पर टिका है। सत्य,पवित्रता,दान और आचरण.. सत्य कभी हार नहीं सकता..यदि ऐसा होता तो दुनिया ही खत्म हो जाएगी। सत्य को कलयुग भी नहीं डिगा सकता..। आज यदि दुनिया टिकी हुई है तो उसके केन्द्र में सत्य का वास है। चाहे कोई भी क्षेत्र हो सत्य का मूल्य है। जिस दिन

भय बिन होय ना प्रीत…शारदानंद जी

बिलासपुर—वुद्धिमान इँसान वर्तमान को जीता है। देखने में आ रहा है कि आज हर इंसान भूत को पकड़कर भविष्य की चिंता में डूबा है। इसलिए उसका वर्तमान बिगड़ रहा है। जो वर्तमान को जीता है वह अपना जन्म सार्थक बनाता  है। भूत और भविष्य के चक्कर में हम वर्तमान को खो रहे  हैं। ऐसा करने

भारतीय परंपरा…अर्पण के भाव से है जिंदा

बिलासपुर—पुराने समय में…उससे भी पहले..जब धर्म- कर्म का समाज में व्यापक प्रभाव हुआ करता था। वृद्धाश्रम, बालश्रम.अनाथालय जैसी संस्थाएं नहीं हुआ करती थीं। तब परंपराएं बहुत मायने नहीं रखती थीं। जैसे जैसे समाज ने विकृत स्वरूप लेना शुरू किया। वैसे वैसे कृत्रिम आश्रमों का भी जन्म हुआ। परंपराएं जटिल होती गयीं। ऐसे में परिवर्तन का
loading...