“चल…चल मेरे भाई, तेरे हाथ जोड़ता हूँ…हाथ जोड़ता हूँ…तेरे पाँव पड़ता हूँ… बोला ना…नहीं जाता…अरे..घुसता ही चला आ रहा है…याँ…।“ अपने जमाने की मशहूर मल्टी स्टार फिल्म “नसीब” के इस गाने का यह छोटा सा हिस्सा याद आ जाता है (हालांकि गाने के बीच सुपर स्टार अमिताभ बच्चन के इस डॉयलाग “–अरे घुसता ही चला