लखन पटले Archive

सरकंडा अपहरण काण्डः सातवां आरोपी कोरबा में पकड़ाया

बिलासपुर—सरकंडा से 24 अप्रैल को दो बच्चों के अपहरण काण्ड के मास्टर माइंड आकाश यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आकाश यादव कोरबा के हरदी बाजार में छिपकर फल का व्यवसाय कर रहा था। सीएसपी लखन पटले ने बताया कि आकाश यादव अपने चार अन्य साथियों के साथ मिलकर एक अन्य अपहरण और

डकैती के पहले हिरासत में आरोपी

बिलासपुर—पुलिस की स्पेशल टीम ने डकैती के पहले ही डकैत गिरोह को पर्दाफाश किया है। पुलिस ने आठों आरोपियों को गिरफ्तार कर हवालात के पीछे भेज दिया है। सभी युवक पश्चिम बंगाल के मिदनापुर के रहने वाले हैं। आरोपियों को ठेके पर डकैती डालने के लिए बुलाया गया था। पुलिस ने गैंग के पास से

शुभम् विहार में लाखों की चोरी

बिलासपुर—शुभम विहार कॉलोनी में चोरों ने लाखो के सामान पर हाथ साफ किया है। शिकायत के बाद आरोपियों की तलाश पुलिस कर रही है। सीएसपी लखन पटले ने बताया कि शिकायत के अनुसार चोरों ने साने चांदी के जेवरात भी पार किए हैं।              शुभम विहार स्थित रमेश बाघरोजिया के घर में चोरों ने हाथ

स्पेशल टीम का स्पेशल विवाद…

बिलासपुर— गंभीर अपराधों के नियंत्रण और पतासाजी के लिए एक बार फिर स्पेशल टीम का गठन किया गया है। गठन के साथ ही टीम विवादों से घिर गयी है। टीम में ऐसे लोगों को शामिल किया गया है जिन पर अवैध वसूली के गहरे दाग पहले से लगे हैं। ऐसे लोगों की सपंत्ति की जानकारी जुटाई जा रही

एसपी ने किया महिला प्रकोष्ठ थाना का निरीक्षण

बिलासपुर— पुलिस कप्तान मयंक श्रीवास्तव ने आज कुछ थानों का औचक निरीक्षण किया। तारबाहर थाना पहुंचकर कामकाज की जानकारी ली। एसपी ने बगल में महिला सेल का भी दौरा किया। आवश्यक हिदायत के बाद साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने को कहा। मंयक श्रीवास्तव ने अधिकारियों और कर्मचारियों को बताया कि पीड़ितों की फरियाद को

पुलिस हिरासत में चोरी के आरोपी

बिलासपुर—सिरगिट्टी पुलिस ने चेकिंग के दौरान कई चोरियों के मास्टर माइंड को हिरासत में लिया है। दोनो भागने का प्रयास कर रहे थे। पुलिस के अनुसार पकड़े गए दोनों आरोपी सिरगिट्टी क्षेत्र में चोरी के कई वारदात को अंजाम दिये हैं। पुलिस ने दोनों के पास से  कम्प्यूटर, सोने चांदी के जेवरात और मोटर सायकल

लोगों की खुशियों में पुलिस की खुशी-अभिषेक पाठक

(भास्कर मिश्र)बिलासपुर–बिलासपुर जो भी आया….यहीं का होकर रह गया। बिलासपुर ने हर वर्ग को आकर्षित किया है। विविधता ही बिलासपुर की पहचान है।बिलासपुर को यदि खुद्दार शहर कहें तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। यह जन्मजात और सांस्कारिक शहर है।खुद की पहचान को बनाकर वक्त के साथ चलना बिलासपुर की आदतों में है।बिलासपुर को अभी बहुत