HADTAL Archive

एक दिवसीय धरना के बाद बड़ा फैसला…सहकारी बैंक कर्मचारियों का एलान…25 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल

बिलासपुर—प्राइस इंडेक्स की मांग को लेकर तीन दिनों से सांकेतिक प्रदर्शन के बाद जिला सहकारी बैंक कर्मचारियों ने आज बैंक के सामने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर हड़ताल किया। धरना प्रदर्शन कर शासन और बैंक प्रबंधन पर मांग को लेकर दबाव बनाया। हड़ताल पर बैठे कर्मचारियों ने कहा कि प्राइस इंडेक्स की मांग को लेकर

सीएमडी ने कहा…हड़ताल राष्ट्रहित में ठीक नहीं..श्रम संघ से की लिखित अपील…काम पर लौटे अन्यथा होगी कार्रवाई

बिलासपुर—एसईसीएल सीएमडी ए.पी. पण्डा ने श्रम संगठनों से हड़ताल से लौटने को कहा है। मालूम हो कि केन्द्रीय श्रम संगठनों ने संयुक्त रूप से दो दिवसीय आम हड़ताल का एलान किया है। हड़ताल के मद्देनजर ने एसईसीएल ने कंपनी संंचालन समिति की बैठक बुलाकर सभी श्रम संगठनो को देशहित में हड़ताल पर नहीं जाने को

बैंकरों ने सांसद को लिखित में बताया..संविलियन बैंक हित में नहीं…सांसद से कहा..मुद्दे को लोकसभा में उठाएं

बिलासपुर—-यूनाईटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस ने बैंक मर्जर के खिलाफ और मर्जर प्रक्रिया को रोकने को लेकर एक कार्यक्रम के दौरान सांसद लखनलाल साहू को ज्ञापन दिया। बैंक यूनियन्स के स्थानीय संयोजक ललित अग्रवाल की अगुवाई में बैंकरों ने सांसद को मर्जर से होने वाले नफा नुकसान से परिचय कराया। बैंकरों ने निवेदन किया कि

बैंकरों ने कहा…बहुत हुई मन की बात..बताएं..प्यारा कौन..10 लाख कर्मी या चंद लुटेरे..अधिकार मांगते ही, खोखला हो जाता है बैंक

बिलासपुर— 21 और कि26 दिसम्बर को देश के 3 लाख से अधिक कर्मचारी और अधिकारी अपनी मांग को लेकर अखिल भारतीय स्तर पर हड़ताल पर जाने का एलान किया है। जाहिर सी बात है कि हड़ताल का असर आम जन जीवन पर पड़ने से इंकार नहीं किया जा सकता। क्योंकि इन दिनों बैंकिंग कार्य पूरी

बैंक अधिकारियों का एलान-ए-जंग…सहायक महासचिव ने कहा…गलत नीति और पालिसी मेकरों ने किया नुकसान

बिलासपुर—ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कन्फेडरेशन के आह्ववान पर देश के तीन लाख से अधिक बैंक कर्मचारी और अधिकारी21 दिसम्बर को हड़ताल पर रहेंगे। कन्फडरेशन के सहायक महासचिव पीएनबी वरिष्ठ प्रबंधक ललित अग्रवाल ने बताया कि सात दिसम्बर को हड़ताल को लेकर जरूरी बैठक स्टेट बैंक शाखा व्यापार विहार में किया गया है। इस दौरान 21

नाराज महिलाओं ने कहा नहीं करेंगे मतदान…कलेक्टर कार्यालय का किया घेराव…कहा..अब करेंगे भूख हड़ताल

बिलासपुर—वसुन्धरा नगर के लोगों ने आज अच्छी खासी संख्या में कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर घेराव किया। नाराज महिलाओं ने कहा दो साल से कभी कलेक्टर कार्यालय तो कभी मंत्री..कभी सांसद सबका दरवाजा खटखटा चुके हैं। हर बार आश्वासन दिया जाता है कि शराब दुकान को लेकर व्यवस्था करेंगे। कभी चखना वालों को हटा दिया जाता है

अब अनियमित कर्मचारियों ने खोला मोर्चा…कहा..मांग पूरी करे सरकार..अन्यथा योजनाओं पर पड़ेगा असर

बिलासपुर— चार सूत्रीय मांग को लेकर अनियमित अधिकारी और कर्मचारियों ने प्रांतव्यापी हड़ताल का शंखनाद किया है। कोन्हेर गार्डन में कर्मचारियों ने धरना प्रदर्शन के दौरान बताया कि चार सूत्रीय मांग को लेकर अब तक शासन के सामने प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से पेश किया गया। बावजूद इसके उनकी मांगों को सरकार ने गंभीरता से नहीं

स्वास्थ्य संयोजकों की सरकार को धमकी….दूर करें वेतन विसंगति..अन्यथा 80 लाख बच्चों को नहीं लगेगा टीका

बिलासपुर— प्रदेश के ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजकों ने 17 जुलाई को सांकेतिक हड़ताल का एलान किया है। पत्रवार्ता में प्रदेश स्वास्थ्य संगठन कर्मचारी संघ के नेता ने बताया कि यदि सरकार उनकी मांगों को गंभीरता से नहीं लेती है…स्वास्थ्य विभाग पर गलत असर पड़ेगा। इसका खामियाजा सरकार को भुगतना होगा। इतना ही नहीं कर्मचारी नेता ने

अधिकारी,कर्मचारी और लिपिकों का एक साथ मोर्चा..सरकार पर बनाया दबाव..कार्यालयों में पसरा रहा सन्नाटा..अनिश्चितकालीन हड़ताल की धमकी

बिलासपुर— लिपिको ने एक साथ भागदौड़ की जिन्दगी को पूरे 12 घंटे जाम कर दिया। कार्यालयों के दरवाजे कहीं खुले तो कामकाजी लोग नदारद रहे। कई जगह तो कार्यालय के दरवाजे पर ताला लटका हुआ मिला। कुछ अधिकारी इधर उधर चैन से घूमते और भटकते नजर आए। बाकी सब कोन्हेर गार्डन में हड़ताल में शामिल

पुलिस में विद्रोह की आग…बर्खास्त कर्मचारियों की रणनीति…बढ़ाएंगे भीड़…फिर होगी IPS और सरकार को घुटनों पर लाने की तैयारी

बिलासपुर–क्या छत्तीसगढ़ पुलिस व्यवस्था गहरे संकट के दौर में है। या फिर हड़ताल की बातें हवा हवाई है। या फिर सरकार पुलिस जवानों की मांगो को गंभीरता से नहीं लेकर बड़ी भूल कर रही है। संभव है कि अलग अलग मोर्चा पर सभी बातें सही हों। लेकिन विद्रोह के बीच से जानकारी मिल रही है

अध्यापकों ने फिर किया जंग का एलान..नरवरिया ने बताया..शिक्षकों पर भारी पड़ गयी नेताओं की दोस्ती

बिलासपुर/भोपाल– मध्यप्रदेश के शिक्षाकर्मियों ने एक बार फिर हड़ताल का एलान किया है। पहले की तुलना में इस बार शिक्षाकर्मियों में कुछ ज्यादा ही आक्रोश है। शिक्षाकर्मियों का मानना है कि पौने तीन लाख अध्यापकों के साथ सरकार ने धोखाधड़ी की है। 29 मई को कैबीनेट में लाया गया संविलियन प्रस्ताव आधा अधूरा है। क्योंकि

काली पट्टी बांधकर निपटाया कामकाज…लिपिक संघ नेताओं ने कहा..काम काज होगा बंद…अब अनिश्चितकालीन हड़ताल की बारी

बिलासपुर–छग प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ के आह्वान पर 1 जून को प्रदेश के सभी लिपिकों काली पट्टी बांधकर सरकारी काम काज किया। इस दौरान प्रांताध्यक्ष चन्द्रिका सिंह ने लिपिकों की दो सूत्रीय मांग  को लेकर पांच चरणों में आंदोलन करने का एलान भी किया। बावजूद इसके मांग पूरी नहीं होने पर सरकार को

कर्मचारी नेता पीआर का एलान..महिलाओं के आंदोलन को बताया एतिहासिक…कहा एस्मा लगाना अलोकतांत्रिक

बिलासपुर—-कर्मचारी नेता पीआर यादव ने दावा किया है कि परिचारिकाओं का आंदोलन मील का पत्थर साबित होगा। लोकतंत्र में सबको अपनी बातों को  रखने का अधिकार है। परिचारिकाओं और उनके आंदोलन के साथ  शासन ने बर्बर व्यवहार किया । पूरा विश्वास है कि इतिहास के पन्नों में महिलाओं के आंदोलन के साथ ही शासन के

पूंजीपतियों और सरकार में साढगांठ….हड़ताली बैंकरों ने बनाया मानव चैन..कहा..नहीं होने देंगे निजीकरण

बिलासपुर— यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के आव्हान पर आईबीए के खिलाफ सभी बैंकर्स 30 मई 2018 की सुबह 6 बजे से 1 जून 2018 सुबह 6 बजे तक 48 घँटों की अखिल भारतीय हड़ताल पर हैं। बिलासपुर में भी यूनियन बैंक की मुख्य शाखा के पास बैंकरों ने  48 घन्टे की लगातार हड़ताल का

काला बैज लगाकर किया काम काज…बैंकरों ने कहा…मंगलवार को करेंगे जंंगी प्रदर्शन

बिलासपुर—आईबीए और यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के मध्य समझौता वार्ता विफल होने के बाद सोमवार को देश के सभी बैंकरों ने काला बैज लगाकर विरोध प्रदर्शन किा। ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कन्फेडरेशन, छतीसगढ़ के उप महासचिव एवं एआईपीएनबीओए  बिलासपुर मंडल सचिव ललित अग्रवाल ने बताया कि जिले के बैंकरों ने भी आईबीए के खिलाफ

बैंकर्स ने किया जंगी हड़ताल का एलान..तीन दिन रहेगा कामकाज बंद..ललित ने बताया..सरकार की पालिसी में खोट

बिलासपुर—आईबीए की मनमानी के खिलाफ बैंकर्स ने यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियन्स के बैनर तले जंगी हड़ताल का एलान किया है। ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कन्फेडरेशन, छतीसगढ़ के उप महासचिव ललित अग्रवाल ने बताया कि केन्द्र सरकार और आईबीए की निष्क्रियता और मनमानी से बैंकर्स परेशान हैं। जिसके चलते कर्मचारियों में आक्रोश दिनों दिन बढ़ता

2 दिवसीय बैंक हड़ताल का एलान….संगठनों का सामुहिक फैसला…PNB में ग्राहकों को मिला..बैंकिंग का डिजिटल टिप्स

बिलासपुर—बैंकर्स क्लब और पीएनबी के संयुक्त तत्वावधान में दयालबंद स्थित पीएनबी ब्रांच में डिजिटल अवेयरनेस एक दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान ग्राहकों ने 1, 2, 5, 10 रूपए के सिक्को के अलावा 10, 20, 50, 100, 200, 500, 2000 की करेंसी का एक्सचेंज किया। लोगों ने कार्यक्रम की जमकर सराहना की ।                    

सहकार क्षेत्र के बड़े नेताओं ने कहा…बर्दास्त नहीं करेंगे तानाशाही…प्रभारी सीईओ को बताया संदिग्ध…तिवारी ने कहा कर्मचारियोंं ने किया हड़ताल से किनारा

बिलासपुर— छत्तीसगढ़ जिला सहकारी बैंक के बैनर तले आज जिला सहकारी बैंक कर्मचारियों ने कार्यालय के सामने जंगी एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। हडताल में छत्तीसगढ़ सहकारी संगठन के प्रदेश स्तरीय कर्मचारी नेताओं ने शिरकत किया। धरना प्रदर्शन हड़ताल के दौरान कर्मचारी संगठन के नेताओं ने जिला सहकारी बैंक प्रबंधन पर जमकर निशाना साधा। बैंक

अखिल भारतीय बैंक हड़ताल का एलान…आईबोक पदाधिकारी ने बताया…आईबीए के रूख से बैंककर्मी नाराज

बिलासपुर—यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन ने अखिल भारतीय बैंक हड़ताल का एलान किया है। हड़ताल का फैसला मुंबई में एक बैठक के दौरान लिया गया है। आईबोक के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिलीप साहा के हवाले यह जानकारी छत्तीसगढ़ के आईबोक उप महासचिव ललित अग्रवाल ने दी है। ललित अग्रवाल पंजाब नेशनल बैंक दयालबंद शाखा के वरिष्ठ

बातचीत के लिए मंडल ने बुलाया…शिक्षाकर्मियों में जागी उम्मीद..संजय ने कहा मजबूती से रखेंगे मांग

बिलासपुर— सरकार ने शिक्षाकर्मी महागठबंधन के नेताओं को मंत्रालय बुलाया है। शुक्रवार को पंचायत प्रमुख सचिव और शिक्षाकर्मी संचालक मंडल के नेता बातचीत के टेबल पर आमने सामने होंगे। जानकारी के अनुसार शिक्षाकर्मियों की पंचायत सचिव आर.पी.मण्डल के बीच करीब 12 बजे मंत्रालय में बैठक होगी। बैठक टेबल पर शिक्षाकर्मी नेताओं के अलावा शिक्षा सचिव