LABOUR Archive

श्रमिकों से बस किराया लेने वालों के विरूद्ध होगी कार्रवाई

भोपाल।मध्यप्रदेश की सीमा में अन्य राज्यों से पहुंचने वाले प्रवासी श्रमिकों को जिलों में भोजन और परिवहन की सुविधा प्रदान की जा रही है। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बताया कि श्रमिकों के लिये बसों की नि:शुल्क व्यवस्था की गई है। यदि कहीं से यह शिकायत आती है कि  वाहन चालक द्वारा श्रमिकों से किराए की

ब्रेकिंग-श्रमिकों की छत्तीसगढ़ वापसी के लिए भूपेश सरकार इस रूट पर चलाएगी 15 स्पेशल ट्रेन,ट्रेन में आने के लिए सभी को ऑनलाइन करना होगा रजिस्ट्रेशन

रायपुर।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल और निर्देशन पर लॉकडाउन के कारण अन्य राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के श्रमिकों, छात्रों, संकट में पड़े लोगों और चिकित्सा की आवश्यकता वाले व्यक्तियों की छत्तीसगढ़ वापसी के लिये छत्तीसगढ़ सरकार ने अब तक कुल 15 स्पेशल ट्रेनों चलाने की योजना है ।राज्य सरकार ने कहा कि इसके साथ ही

छग से अन्य राज्य में जाने वाले श्रमिकों व अन्य व्यक्तियों के पंजीयन हेतु राज्य शासन ने बनाया ’आॅनलाइन ऐप्लिकेशन’,11 मई से आमजनों के लिये भी खोली जाएगी

रायपुर-छत्तीसगढ़ राज्य में लाॅकडाउन के कारण फंसे अन्य राज्यों के ऐसे श्रमिक एवं व्यक्ति जो अपने निवास के गृह राज्य में वापस जाने के इच्छुक हैं (स्वयं के साधन से जाने वाले तथा पास हेतु आवेदन करने वालों को छोड़कर), उनके पंजीयन के लिये आॅनलाईन एप्लीकेशन बनाया गया है, जिसका लिंक इस प्रकार है-http:cglabour.nic.in/Covid19_Loginpage.aspx श्रम

CGWALL से बोले हरीश केडिया–केन्द्र और राज्य दोनों सरकारें इस बात को समझें कि उद्योग–धंधे चालू रखना जरूरी है,इसके लिए भयमुक्त माहौल बनाना होगा

सीजीवालडॉटकॉम।“ केंद्र और राज्य सरकार दोनों को यह समझने की जरूरत है कि उद्योग –  धंधे को चालू रखना बहुत जरूरी है  । उद्योग- धंधे बंद होने से देश के साथ ही सभी का  नुकसान हो रहा है  । उद्योग धंधे को चालू रखने के लिए भयमुक्त वातावरण बनाने की जरूरत है  । साथ ही

Bilaspur-सुरेश सिंह को बनाया गया नोडल अधिकारी,प्रवासी मजदूरों की आवाजाही की करेंगे निगरानी,कलेक्टर का आदेश

बिलासपुर।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर राज्य शासन द्वारा लाक डाउन के कारण अन्य राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के श्रमिकों को वापस लाने की तैयारियां शुरू कर दी है। इन श्रमिकों को रेल के माध्यम से छत्तीसगढ़ आने के लिए आठ रेलवे स्टेशन जिनमे में बिलासपुर ,चांपा बिश्रामपुर, जगदलपुर, भाटापारा, रायपुर, दुर्ग और

CM भूपेश का बड़ा निर्णय,छत्तीसगढ़ के श्रमिकों की रेल यात्रा का किराया देगी राज्य सरकार

रायपुर।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के श्रमिक जो लाॅकडाउन के कारण अन्य राज्यांे में फंसे हुए हैं, उनकी घर वापसी के लिए अहम फैसला लेते हुए कहा है कि छत्तंीसगढ़ के श्रमिकों को स्पेशल ट्रेन द्वारा छत्तंीसगढ़ लाने पर उनके यात्रा किराया का व्यय भार राज्य सरकार वहन करेगी।मुख्यमंत्री के निर्देश पर राज्य के परिवहन

लॉकडाउन में फंसे श्रमिकों के लिए हेल्पलाईन नम्बर जारी,इन नंबरो पर कर सकते है संपर्क

रायपुर।छत्तीसगढ़ शासन के श्रम विभाग के द्वारा लॉकडाउन के दौरान फंसे छत्तीसगढ़ एवं अन्य राज्यों के श्रमिकों की सकुशल घर वापसी और अन्य जरूरी सहायता के लिए हेल्प लाइन नम्बर जारी किए गए हैं। स्टेट हेल्पलाईन नंबरों के लगातार व्यस्तता को देखते हुए वर्तमान 03 हेल्पलाईन नंबर को बढ़ाकर 7 कर दी गयी है जो

मजदूरों ,छात्रों और बाहर फंसे हुए यात्रियों के टिकट का पैसा पीएम केयर फंड से दिया जाए – कांग्रेस ने की मांग

रायपुर।मजदूरों छात्रों और छत्तीसगढ़ के बाहर फंसे हुए यात्रियों के लिये स्पेशल ट्रेन चलाये जाने का स्वागत करते हुए प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने टिकट का पैसा पीएम केयर फंड से दिए जाने की मांग की है।प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहां है कि विशेष

सांसद अरूण साव ने बताया..रूस यूक्रेन से लौटेंगे विद्यार्थी..CM को लिखा पत्र..अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों को बचाएं..हालत बहुत खराब

बिलासपुर—विदेश में पढ़ रहे छत्तीसगढ़ के विद्यार्थियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य को लेकर भारत सरकार गंभीर है। सरकार सभी विद्यार्थियों की सकुशल स्वदेश वापसी के लिए हर संभव उपाय करेगी। किसी को चिंतिंत होने की जरूरत नहीं है। यह बातें केनद््रीय विदेश राय्जय मंत्री व्ही.मुरलीधरन ने सांसद अरूण साव से चर्चा के दौरान कही।  

Lockdown : दो लाख से अधिक मजदूरों को मिली छत्तीसगढ़ सरकार की मदद

रायपुर।लॉकडाउन से उत्पन्न परिस्थितियों के कारण प्रदेश एवं प्रदेश से बाहर फंसे हुए दो लाख से अधिक जरूरतमंद श्रमिकों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल एवं निर्देश पर तत्काल राहत पहंुचायी गई है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव के लिए देश भर में किये गये लॉकडाउन के दौरान मुख्यमंत्री के

जिस गाँव में मुंगेली जिला ODF घोषित हुआ..वहीं अधूरे हैं शौचालय..मजदूरी का भी भुगतान नहीं..

लोरमी(योगेश मौर्य)।जिस तरह से स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण जोर शोर से किया जा रहा है , उसी कड़ी में अपने कार्य क्षेत्र को ओडीएफ घोषित करने के लिए अधिकारियो में भी होड़ लगी हुई है। ऐसा ही एक मामला मुंगेली जिले का है जहाँ के लोरमी विकासखण्ड के ग्राम पंचायत महामाई में

यूथ नेताओं ने कहा करेंगे घेराव…दोषियों पर हो कार्रवाई..अन्यथा सिम्स के खिलाफ होगा उग्र प्रदर्शन

बिलासपुर— भारतीय युवा कांग्रेस नेताओं ने कलेक्टोरेट कार्यालय का घेराव कर सिम्स प्रबंधन के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा। जिला प्रशासन को युवा कांग्रेसियों ने बताया कि सिम्स प्रबंधन ने लापरवाही की सीमा पार कर दिया है। आखिर वाशरूम में प्रसव होने की स्थिति क्यों आयी। इसके लिए कौन जिम्मेदार है। सारी घटनाओं की
loading...