रायपुर। कोरोना काल में 16 सौ करोड़ से अधिक का रिकार्ड पंजीयन राजस्व अर्जित किया है। यह गत वर्ष की तुलना में करीब 24 फीसदी अधिक है। चालू वित्तीय वर्ष में 31 जनवरी तक राज्य में एक लाख 82 हजार दस्तावेजों का पंजीयन हुआ है, जिसके कारण स्टाम्प और पंजीयन शुल्क के रूप में 1087.19 करोड़