बिलासपुर– हाईकोर्ट के न्यायाधीश प्रीतिंकर दिवाकर पत्रकारों से रूबरू हुए। उन्होने प्रति दो महीने में होने वाले लोकअदालत की जानकारी दी। जस्टिस दिवाकर ने बताया कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को सरलता के साथ न्याया मिले…सुप्रीम कोर्ट का उद्देश्य है। इसलिए साल में एक बार लगने वाले लोक अदालतों को प्रत्येक दो महीने में लगाया