बिलासपुर  । केन्द्रीय जेल में बंदी स्वरोजगार के लिए विभिन्न हुनर सीखने के साथ ही अपनी शैक्षणिक योग्यता भी बढ़ा रहे हैं। पिछले कैलेंडर वर्ष (2014) में वहां लगभग 300 बंदियों ने कक्षा पहली से स्नातकोत्तर (मास्टर ऑफ ऑर्ट्स) तक की परीक्षाएं उत्तीर्ण की हैं। बीते कैलेंडर वर्ष में 286 कैदियों ने पहली से आठवीं