फसल बीमा Archive

फसल बीमा का पूरा लाभ क्यों नहीं मिल रहा छत्तीसगढ़ के किसानों को..?योजना में सुधार के लिए CM भूपेश बघेल ने केन्द्रीय मंत्री को लिखी चिट्ठी

रायपुर।केंद्र सरकार ने  2016 से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना शुरू की है ।  लेकिन धान का कटोरा कहे जाने वाले छत्तीसगढ़ में सभी किसानों को इस योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है  । आंकड़े बताते हैं कि पिछले 3 वर्षों में छत्तीसगढ़ के जितने किसानों ने अपने फसल का बीमा कराया उनमें से

किसान भाई दीवाली से पहले दीवाली मना सकें,इसलिए बोनस तिहार-सीएम रमन

डोंगरगढ़।दीपावली से पहले हमारे किसान भाई दीपावली सा उत्सव मना सकें, इसलिए हमने बोनस तिहार मनाने का निर्णय किया। आज राजनांदगांव जिले के किसानों के खाते में आधे घंटे के भीतर पैसा चला जाएगा। यह बात मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने डोंगरगढ़ में हुए बोनस तिहार के अवसर पर कही।सीएम ने डोंगरगढ़ में आए विशाल

जोगी ने दिया एक महीना का अल्टीमेटम

बिलासपुर—-जनता काग्रेस नेताओ ने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर किसानो को फसल बीमा दिए जाने की मांग की है। जिला प्रशासन से अमित जोगी ने बतााय कि चार महीने बाद भी किसानों को क्लेम का भुगतान नहीं किया गया है। यदि एक महीने में किसानों की समस्या का निराकरण नहीं किया जाता है तो जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़

प्रशासन से कांग्रेसियों ने मांगा किसानों का हक

बिलासपुर—प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ नही मिलने से नाराज बेलतरा विधानसभा के सैकड़ों किसान कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। इसके पहले किसानों ने कांग्रेस के बैनर तले रैली निकालकर सरकार केे खिलाफ नारेबाजी की। जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला और अजय सिंह की अगुवाई में किसानों ने सिटी मजिस्ट्रेट और एडीएम कुंजाम को राष्ट्रपति के

फसल बीमाः सरकार का यू टर्न…मोबाइल देेने से किया इंकार

बिलासपुर— सरकार अब पटवारियों को एन्ड्रायड मोबाइल नहीं देगी। पटवारियों को अब निजी मोबाइल से फसल बीमा का सर्वे कर सरकार को रिपोर्ट करना होगा। नए आदेश के बाद पटवारियों में उहाफोह की स्थिति है। कुछ पटवारियों ने तो दबी जुबान में कहना शुरू कर दिया है कि निजी मोबाइल का इस्तेमाल हम सरकारी काम

नाफरमान पटवारियों पर गिरेगी गाज-अन्बलगन पी

बिलासपुर— कलेक्टर ने आज टाइम लिमिट बैठक में अधिकारियों के कार्यों की समीक्षा की। लम्बित प्रकरणों को जल्द से जल्द निराकण करने को कहा। उन्होने अधिकारियों को धान खरीदी के समय विशेष मानिटरिंग करने का भी निर्देश दिया। बैठक के दौरान कलेक्टर कही समय गरम तो कहीं सख्त नजर आए। पटवारियों को जल्द से जल्द

अब पंचायत स्तर पर फसल बीमा..अन्बलगन पी.

बिलासपुर— मंथन सभागार में आयोजित पत्रकारों की बैठक में कलेक्टर ने बताया कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के स्वरूप में बदलाव किया गया है। पहले सूखे का आकलन तहसीलस्तर पर होता था अब पंचायत स्तर पर सूखे का आकलन किया जाएगा। असिंचित क्षेत्र में धान की खेती करने वाले किसानों को इस योजना का सीधा

वर्षा आधारित फसल बीमा योजना में करोड़ों का घोटाला !

            रायपुर ( वैभव शिव पाण्डेय )। छत्तीसगढ़ में वर्षा आधारित फसल बीमा में  एक बड़े घोटाला का खुलासा हुआ है !  मामला बीते वर्ष किए गए 336 करोड़ की बीमा का है।  जहां किसानो को बीमा के नाम पर ठगने का काम किया गया। दस्तावेजी प्रमाण के साथ ये आरोप लगाए
loading...