नईदिल्ली।सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने बस निर्माण और बस बॉडी के संबंध में अपने कड़े नियम जारी किए है, जिसके अनुसार उन्हीं बसों का आरटीओ से पंजीयन किया जाएगा, जो एजेंसी या बॉडी बिल्डर भारत सरकार से अधिमान्यता प्राप्त डीलरशिप होगी। इसके बाद उस बॉडी बिल्डर को संबंधित परिवहन कार्यालय से व्यापार का प्रमाण