लोक निर्माण विभाग Archive

अधिकारी-कर्मचारी बिना परमिशन नहीं छोड़ेंगे हेडक्वार्टर,कलेक्टर ने कहा-समय पर हो शिकायतों का निराकरण

बिलासपुर-कलेक्टर पी.दयानंद ने मंगलवार को कलेक्ट्रोरेट सभाकक्ष मंथन में आयोजित समय सीमा की बैठक में अधिकारियों को निर्देशित किया कि मुख्यमंत्री की विकास यात्रा विकासखण्ड मुख्यालय मस्तूरी में 31 मई को प्रस्तावित है।अधिकारी कर्मचारी अपने-अपने मुख्यालय पर रहे। बिना अनुमति के मुख्यालय से बाहर न जाये। उन्होंने प्रस्तावित विकास यात्रा की तैयारियों की समीक्षा करते

चौपाल में सीएम को मिली शिकायत:चंद घंटे में एसडीओ सस्पेंड

रायपुर।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के निर्देश पर तुरंत कार्रवाई करते हुए लोक निर्माण विभाग के अनुविभागीय अधिकारी मोहन राम भगत को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है।उनका निलम्बन  आदेश विभाग से बुधवार को मंत्रालय से जारी कर दिया गया है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने लोक सुराज अभियान दौरान महासमुंद जिले के ग्राम

आरईएस के दो सब इंजीनियर सस्पेंड,पीडब्ल्यूडी एसडीओ को कारण बताओ नोटिस

अम्बिकापुर।सरगुजा संभाग के कमिश्नर टी.सी. महावर ने बुधवार को सूरजपुर जिले के ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के दो उप अभियंता बृजेश कुमार श्रीवास्तव और फरहान को अपने दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही बरतने के कारण तत्काल सस्पैंड करने के निर्देश कलेक्टर को दिये।उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अनुविभागीय अधिकारी बृजेश कुमार चतुर्वेदी को तीन साल

आमदनी अठन्नी, खर्चा रूपय्या…स्वीकृत 5000 भुगतान 6107 रूपए

बिलासपुर—शासन ने कलेक्टर दर पर कुशल,अर्धकुशल और अकुशल श्रेणी में कामगारों का बंटवारा किया है। दैनिक भुगतान के हिसाब से सभी कामगारों का महीने का मस्टर रोल तैयार किया जाता है। तीनों समूह के कामगारों का वेतन शासन से निर्धारित अाकड़ों से कहीं ज्यादा है। प्रश्न उठता है कि आखिर अतिरिक्त रूपए कामगारों को दिया

बेहतर होगी कोटा-अचानकमार सड़क

रायपुर।लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत ने सोमवार को रायपुर में लोक निर्माण विभाग के कार्यों की प्रगति समीक्षा की।मूणत ने विभाग के अंतर्गत निर्माणाधीन सभी कार्यों को गुणवत्ता सहित समय-सीमा में पूर्ण करने के लिए अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए।मूणत ने बताया कि राज्य में बेहतर आवागमन की सुविधा के लिए चालू वर्ष 2016-17 के

कार्यालय में घुसकर ई.ई को धमकी

बिलासपुर– लोक निर्माण विभाग डीविजन एक के इंजीनियर को कार्यालय में घुसकर ठेकेदार ने मारपीट और देख लेने की धमकी दी है। बात एग्रीमेंट को लेकर थी। इंजीनियर जब ठेकेदार की बातों से इत्तफाक नहीं रखा तो वह कक्ष में इंजीनियर मधेश्वर प्रसाद को देख लेने की धमकी दी। इस दौरान विभाग के कुछ कर्मचारी