हत्या Archive

नाराज ग्रामीणों ने कहा…बिक गयी है पुलिस…

बिलासपुर—मस्तूरी हत्या और दुष्कर्म काण्ड की आग धीरे- धीरे न्यायधानी से राजधानी तक पहुंच गयी है। हालात को देखते हुए क्षेत्र में पुलिस बल 24 घंटे के लिए तैनात कर दिया गया है। मस्तूरी जयराम नगर से लेकर देवगांव और बिलासपुर तक लोग अन्दर ही अन्दर उबल रहे हैं। आक्रोश का लावा कभी भी फूट

रायपुर में पकड़ाया फरार हत्यारा पति

बिलासपुर— पारिवारिक विवाद में गौरेला थाना क्षेत्र के मांगपुर निवासी पति ने पत्नी को पीट पीट कर मौत के घाट उतार दिया। हत्या के बाद आरोपी पति मौके से फरार हो गया। मोबाइल ट्रेस करने के बाद पुलिस ने आरोपी को रायपुर से हिरासत में लिया है। फिलहाल आरोपी को जेल भेज दिया गया है।

हत्या की सुलझी गुत्थी..चार आरोपी गिरफ्तार..सुपारी किलर फरार..

बिलासपुर—बिलासपुर पुलिस की स्पेशल टीम ने बिल्हा थाना क्षेत्र के गांव पौंसरी में अज्ञात शव की शिनाख्त के बाद हत्यारों को पकड़ने का दावा किया है। एडिश्नल एसपी ने बताया कि आरोपी को पुणे से हिरासत में लिया गया है। शिनाख्त के बाद हत्या में शामिल अन्य तीन लोगों को भी पुलिस ने पकड़ लिया

सुलझने के कगार पर हत्या की गुत्थी

बिलासपुर— दो दिन पहले तखतपुर थाना क्षेत्र के बांधा गांव में युवक की रक्त रंजित लाश मिली थी। पता साजी के बाद लाश की पहचान कमलेश कुमार साहू की रूप में की गयी। मृतक के शरीर पर चोट के निशान थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस ने हत्या के आरोप में तीन संदिग्ध को

ग्यारह महीना…900 अपराध…कई मामलों में पुलिस चुप

बिलासपुर—-बिलासपुर पुलिस के आफिसियल आंकड़ों के अनुसार साल 2016-17 में करीब 900 अपराधिक घटनाएं हुई हैं। पुलिस का दावा है कि अपराध पर अंकुश लगा है। लेकिन आंकड़े कुछ और ही बयान कर रहे हैं। चोरों ने शहरी और ग्रामीण दोनों ही क्षेत्रों में बराबर उपस्थित जाहिर किया है। आंकड़ों के अनुसार प्रति महीने के

पिता ने बहू पर लगाया हत्या का आरोप

बिलासपुर— उस्लापुर निवासी संतोष सिंह के परिजनों ने  बहू पर बेटे की हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस कार्यालय पहुंचकर परिजनों ने बताया कि बहू ने घटना के दिन बेटे के साथ मारपीट की थी। उन्हें पूरा विश्वास है कि बहू ने किसी के साथ मिलकर बेटे की हत्या की है।                            संतोष के माता

पति ने उतारा रानी को मौत के घाट

बिलासपुर— छोटे भाई से बातचीत करते देख शंकालु पति ने पत्नी की पीट-पीट कर हत्या कर दी है। मामला पेन्ड्रा थाना क्षेत्र के बचरवार गांव की है। आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसे पत्नी की चरित्र को लेकर शक था। लेकिन नवविवाहिता के परिजनों ने बताया है कि दहेज के लिए दामाद ने बेटी

अधेड़ को बाप बेटे ने दी मौत की सजा

बिलासपुर— भतीजे ने पचास साल के चाचा को टंगिया मारकर मौत के घाट उतार दिया है। बजरंग चौक लगरा निवासी अधेड़ की मौके पर ही मौत हो गयी। आरोपी भतीजा घटना के बाद फरार हो गया। सूचना मिलते ही पुलिस के जवान मौके पर पहुंच गये। जरूरी कार्रवाई के बाद आरोपी की तलाश हो रही

पिता ने कहा…हादसा नहीं..बेटे की हत्या हुई…

बिलासपुर—नाबालिग के पिता ने कहा कि बेटे के साथ हादसा नहीं  साजिश हुई है। बेटे की मौत स्वभाविक करन्ट से नहीं बल्कि करन्ट देकर मारा गया है। आज सिविल लाइन थाने पहुंंचक 14 दिन पहले करन्ट लगने से हुई मौत के नाबालिग बेटे के पिता ने बताया। पिता ने थाना प्रभारी को 6 बिन्दुओ वाला

भांजे की मौतः मामी पर शक की सुई

बिलासपुर—गौरेला के ज्योतिपुर गांव स्थित एक घर में नाबालिग की संदिग्ध अवस्था में लाश मिली है। मकान मालिक की शिकायत पर पुलिस ने लाश को पोस्मार्टम के लिए भेज दिया। मर्ग कायम के बाद पुलिस नाबालिग की मामी से पूछताछ कर रही है।                        

दहेज दानव पहुंचे सलाखों के पीछे

बिलासपुर—दहेज के लिए पत्नी को जिंदा जलाने वाले दोषियों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। पति,सास और श्वसुर को पचंपेडी पुलिस ने जेल भेज दिया है। तीनों ने मिलकर ईश्वरी बाई को दो माह पहले जलाया था। बाद में तीनों ने मिलकर ईश्वरी की मौत को हादसा का रूप देने का भरसक प्रयास किया

शौचालय निर्माण में कमीशनखोरी-अमित जोगी

रायपुर—-अमित जोगी ने शौचालय निर्माण के लिए राजनांदगांव जिले में हुई हत्या मामले पूरी तरह से गलत बताया है। शौचालय निर्माण के लिए इमरजेंसी जैसे हालात वनाए जा रहे हैं। जोगी ने कहा कि 12 हज़ार रुपए में बनने वाला शौचालय कितना कारगर साबित होगा मुख्यमंत्री खुद अपने लिए बनाने और उपयोग के बाद बताये।

पहले आबरू…हत्या के बाद लूटा गहना

बिलासपुर—-कोनी थाना क्षेत्र में महिला लाश की गुत्थी को सुलझाते हुए स्पेशल टीम ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। हत्या की वजह लूट पाट का होना बताया जा रा रहा है। आरोपी के अनुसार मृतका के गहने को मुंगेली बेचा है।                              कोनी मेंटल हॉस्पिटल के पास बंधवापारा सकरी निवासी मालती बाई खुंटे की लाश

सामाजिक बहिष्कार पर सख्त कानून की मांग

बिलासपुर– नेहरू चौक पर आज सामाजिक कार्यकर्ताओं ने टोनही समेत समाज की कुरीतियों का बहिष्कार किया। खाप पंचायत जैसी परंपराओं का विरोध किया। अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति ने अंतरजातीय विवाह के बाद बहिष्कार की पंरपरा को खत्म करने की अपील की। समित के अध्यक्ष.नेत्र विशेषज्ञ डॉ.दिनेश मिश्र ने सरकार से कुरीतियों और सामाजिक बहिष्कार जैसी घटनाओं

प्रेम प्रसंग के चलते हुई नारायण की हत्या

बिलासपुर—रतनपुर थाना क्षेत्र के सोढी परसदा स्थित ईट भठ्ठे में मिली लाश की गुत्थी सुलझा ली गयी है। नारायण सिंह की मौत प्रेम प्रकरण के कारण हुई है। मामले में पुलिस जल्द ही खुलासे की बात कह रही है। मालूम हो कि दो दिन पहले ग्रामीणों की सूचना पर ईटाभठ्ठा से नारायण सिंह की लाश

अधेड़ की मिली लाश..हत्या की आशंका

c बिलासपुर—चकरभाटा थाना क्षेत्र के बोड़सरा निवासी एक वयोवृद्घ कि लाश खेत मे मिली है। सूचना मिलते ही मौके पर पहुची पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच की बात कह रही है। मृतक के परिजनों ने हत्या होने की आशंका जताई है।                      चकरभाठा थाना क्षेत्र के बोड़सरा में 50 वर्ष के एक बुजुर्ग की

आठ अगस्त के बाद लूंगा निर्णय-श्रीरंग

बिलासपुर–सिविल लाइन थाना पहुंचकर मृतक गौरांग के पिता ने बताया कि मेरे बेटा हत्या का शिकार हुआ या हादसे का पुलिस कुछ भी स्पष्ट नहीं बता रही है। सवाल का जवाब जानने आज मैं अपनी बेटी के साथ सिविल लाइन थाना आया हूं। गौरांग के पिता ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से लेकर आरोपियो के

दोषी कौन…पुलिस या संस्कार….सुशांत

बिलासपुर— गौरांग की मौत अब अतीत की घटना होने को है। बहुत लिखा और पढ़ा जा चुका है। उम्मीद है कि आगे भी लिखा जाता रहेगा। जिस तरह से मामला आगे बढ़ रहा है…इससे अब संभावना बनने लगी है कि लोग आने वाले कुछ दिनों में एक दूसरे पर कीचड़ भी उछालना शुरू कर दें।

आरोपियों के परिजनों ने पुलिस को घेरा…मीडिया पर लगाया दबाव का आरोप

  बिलासपुर–गौरांग की मौत को मीडिया ने कुछ ज्यादा ही बढ़ाचढ़ाकर पेश किया है। गौरांग की मौत का हमें भी दुख है। इस प्रकार की घटना पर रोक लगनी चाहिए। गौरांग और उसके माता पिता को न्याय मिलना ही चाहिए। लेकिन इसका अर्थ यह नहीं कि बेकसूरों को सजा मिले। मीडिया ट्रायल से हम लोग

किसने उखाड़े गौरांग के बाल…उतारे.. जूते-मोजे

बिलासपुर— प्रेस क्लब में घुसने वाला व्यक्ति जिंदा लाश दिखाई दे रहा था। जब कुर्सी पर बैठा तो मालूम हुआ कि वह व्यक्ति कोई और नहीं मृतक गौरांग का पिता श्रीरंग चम्पत बोबड़े है। गौरंग के पिता के साथ बहन वेदान्ती बोबड़े मां भी कुर्सी पर बैठी थी। तीनों का जीवन में शायद पहली प्रेसवार्ता