बिलासपुर।रंग-उमंग-तरंग का पर्व होली पूरे देश के साथ ही छत्तीसगढ़ में भी काफी उत्साह के साथ मनाया जाता है। जिसमें रंगों के साथ ही फाग का भी अपना महत्व है। देश के दूसरे हिस्सों की तरह छत्तीसगढ़ में भी फाग की समृद्ध परंपरा रही है। नगाड़ा, मादर,टिमकी और झाँझ-मजीरे की धुन पर गाए जाने वाले