KAVITA Archive

दस किताबों के बराबर ज्ञानी का साथ.. साहित्यकार कौशल ने कहा..बातों को असाधरण तरीके से रखना ही कविता

नवोदित कवियित्री ने बटोरी ताली.. विजय ने बांधा समा..व्यंग्यकार राजेन्द्र मौर्य ने व्यवस्था को जमकर कचोटा

युवा रचनाकारों ने जीता दिल…श्रोताओं ने काव्यफुहार का आनन्द…तालियों की गड़गड़ाहट से सुरम्य हुआ वातावरण

बिलासपुर– उर्दू काउंसिल के बैनर के तले शरदोत्सव कवितावली युवा कवि सम्मेलन का आयोजन सीएमडी कॉलेज स्थित स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स ऑडिटोरियम में किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पीसीसी महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने और अध्यक्षता गीत कवि एवं नये पाठक के संपादक डॉ.अजय पाठक ने की। विशिष्ट अतिथि पूर्व पार्षद रविन्द्र सिंह , वरिष्ठ पत्रकार विश्वेश

साहित्यकारों ने दी गोस्वामी तुलसीदास को अदरांजलि…कविता का किया पाठ…कवियों ने जमकर चलाए शब्दों के वाण

बिलासपुर—परम विद्वान तुलसीदास का नाम हिंदी साहित्य में सबसे ऊपर लिया जाता है। अपनी रचनाओं में उन्होंने जनचेतन के विषयबोधों को उकेरा है। उन्होने अपनी रचाओं से विश्व में भारतीय संस्कृति का परचम लहराया है। गोस्वामी तुलसीदास ने समाज को रचित रामचरितमानस का तोहफा दिया है।  नगर की साहित्यिक संस्था भारतेंदु साहित्य समिति के बैनर

लब्ध प्रतिष्ठित नृत्यांगना का जोशिला स्वागत…पुलिस कप्तान और पीसीसी महामंत्री ने कहा…बिलासपुर को आप पर गर्व है

बिलासपुर—कविता चौपाटी से के बैनर तले विभिन्न समितियों ने अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कत्थक नृत्यांगना कविता गुप्ता का सम्मान किया। इ्स दौरान नगर के साहित्यकार और गणमान्य लोग नृत्यांगना के जीवन से जुड़ने का मौका मिला। सभी ने बधाइयां भी दी। साथ विदेश में बिलासपुर का नाम रौशन करने को लेकर गर्व भी महसूस किया।                           

महापौर ने किया कविता चौपाटी से- का शुभारम्भ…कहा…मील का पत्थर साबित होगी…साहित्यकारों की मुहिम

बिलासपुर—रिवरव्यू में महापौर किशोर राय ने ‘कविता चौपाटी से’ का शुभारम्भ किा। ‘कविता चौपटी से’ में प्रथम रचना छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ गीतकार स्व.लखन लाल विश्वकर्मा की रचना ‘छत्तीसगढ़ महतारी के वंदना’ प्रकाशित की गयी। स्वर्गीय लखन लाल विश्वकर्मी की कविता का पाठ उनके सुपुत्र डीपी विश्वकर्मा ने किया। उपस्थित जनों से कविता को जमकर सराहना

साहित्यकारों ने दी श्रद्धांजलि…नवगीतकार अजय पाठक ने कहा…अटल ने कविता को बनाया मनुष्यता का आभूषण

बिलासपुर—साहित्यकारों ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धान्जलि दी है। रविवार को भारतेंदु साहित्य समिति के तत्वाधान में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में साहित्यकारों ने उस्लापुर में आयोजित काव्यगोष्ठी के दौरान नम आखों से भारत रत्न को याद किया। कार्यक्रम में वरिष्ठ साहित्यकारों के अलावा राज्य स्तरीय युवा कलमकार खोज कार्यक्रम के प्रतिभागियों ने भी

अटलः सोशल मीडिया में किसी ने लिखा कैसे दूं श्रद्धांजलि..कुछ ने कहा जननायक,अजातशत्रु और करिश्माई नेता

बिलासपुर— अटल विहारी वाजपेयी के निधन के बाद सोशल मीडिया अछूता नहीं है। लोग जननायक को अपने अपने अंदाज में श्रद्धांजलि दे रहे हैं। कोई अजात शत्रू तो कोई अटल को अमर बता रहा है। एक व्यक्ति ने लिखा है कि मैं श्रद्धांजलि नहीं दूंगा..क्योंकि अटल हमारे दिल में आज भी जिंदा है।                          भारत

राज्य का पहला और अनूठा कार्यक्रम…युवा साहित्यकारों को मिलेगा बड़ा मंच…विजेताओं को मिलेगा नगद सम्मान

बिलासपुर–छत्तीसगढ़ राज्य युवा आयोग​ ने प्रदेश के युवा कलमकारों को मंच देने का फैसला किया है। ऐसे युवा साहित्यकार जिनकी उम्र 40 या इससे कम है..कार्यक्रम में भागीदारी कर सकते हैं। श्री सांईनाथ फाउंडेशन रायपुर के तत्वावधान में कार्यक्रम का आयोजन 30 जून शनिवार को कैफ़े ट्विन प्लाजा अग्रसेन चौक में किया जाएगा। प्रदेश के

कविता शब्दों से परे भी बहुत कुछ…साहित्यकार महावर ने कहा…समाज से लिया..उसे ही शब्दों में पिरोकर लौटाया

बिलासपुर–– देखकर सुनकर उनकी ऊर्जा पर विश्वास नहीं होता  लेकिन मिलने और बातचीत के बाद विश्वास करना पड़ता है कि एक अच्छा प्रशासक कितना काबिल कवि हो सकता है। तमाम  बातों को समझने और सुनने के बाद कहना पड़ता है कि 24 घंटे 12 महीेने सबके जीवन में हैं। लेकिन उसका उपयोग कौन..किस तरह करता