बिलासपुर—शिक्षाकर्मियों ने कास्मास बायोमेट्रिक मशीन को दिल से ले लिया है। शिक्षाकर्मियों की तरफ से रोज नए बयान आ रहे हैं। शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय संघ छत्तीसगढ़ प्रांताध्यक्ष डॉ.गिरीश केशरकर ने कहा है कि घोड़े को नदी तक जबरदस्ती ले जाया तो जा सकता है लेकिन पानी पीने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता।