बिलासपुर—नक्सल मूवमेंट में बेटे को खोने के बाद जेल प्रहरी पर क्या गुजरती होगी..जब बेटे का हत्यारा उसके ही जेल में सजा काट रहा हो। हत्यारे की देखरेख की जिम्मेदारी भी उसी की हो।  पिता रोज अपने बेटे के हत्यारे को सामने देखता है…निगरानी करता है..खाने पीने का ख्याल भी रखता है। लेकिन फर्ज के