MID DAY MEAL Archive

अब 12 करोड़ छात्रों के खाते में ट्रांसफर होगा पैसा, कोरोना महामारी को देखते हुए सरकार ने लिया फैसला

केंद्र सरकार ने दोपहर भोजन योजना (मिड डे मील) के तहत विद्यार्थियों को प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (direct benefit transfer, DBT) के जरिए पैसा मुहैया कराने का फैसला किया है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने 11 करोड़ 80 लाख विद्यार्थियों को विशेष राहत उपाय के तौर पर यह सहायता उपलब्ध कराने के प्रस्ताव को

Mid Day Meal-मध्यान्ह भोजन के सूखा राशन वितरण में राशन की मात्रा और गुणवत्ता की होगी रैण्डम जांच,निर्देश जारी

रायपुर।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर अवकाश अवधि में स्कूली बच्चों को मध्यान्ह भोजन दिए जाने का निर्णय लिया गया है। शासन के निर्देशानुसार जिले के स्कूलों में 3 अप्रैल से सूखा राशन का वितरण किया जा रहा है। संचालक लोक शिक्षण जितेन्द्र शुक्ला ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को सूखा राशन वितरण में यह

सामाजिक जागरूकता के साथ शालाओ में बाटेंगे मध्यान्ह भोजन,संयुक्त शिक्षक/शिक्षाकर्मी संघ सूरजपुर की सकारात्मक पहल

सूरजपुर।Mid Day Meal: प्रदेश के प्राथमिक माध्यमिक शालाओं में छात्र/छात्राओं के पालकों को 3 और 4 अप्रैल को शिक्षको द्वारा सूखा मध्यान्ह भोजन वितरित किया जाना है, इसके सुरक्षात्मक और सहयोगात्मक तरीके से वितरण हेतु संयुक्त शिक्षक/शिक्षाकर्मी संघ जिला सूरजपुर द्वारा शिक्षक व समाज हित मे दिशा- निर्देश/सुझाव जारी किए गए है।संघ जिला प्रवक्ता भुवनेश्वर

शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह निकले स्कूलो के निरीक्षण पर,पढ़ाई के साथ मध्याह्न भोजन की भी गुणवत्ता देखी,बच्चो से पूछे सवाल

रायपुर। शिक्षा मंत्री डा प्रेमसाय सिंह आज स्कूलों के औचक निरीक्षण के लिए पहुंचे। रायपुर जिले में उन्होंने कई स्कूलों का निरीक्षण किया और व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान छात्रों से पढ़ाई और शिक्षकों से सुविधाओं के बारे में जानकारी हासिल की। आज शिक्षा मंत्री रायपुर के देवपुरी प्राथमिक विद्यालय पहुंचे। उसके बाद वो

PHOTO-सरकारी स्कूलों में मिड डे मील में मिल रही पानी वाली दाल व कंकड़ वाले चावल,कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने तस्वीरेें शेयर कर कहा- बीजेपी स्कूलों और बच्चों के प्रति उदासीन

नईदिल्ली।Priyanka Gandhi Vadra On Mid Day Meal In Schools: देश भर में सरकारी स्कूलों को लेकर आने वाले 95 फीसदी खबरें नकारात्मक ही होती हैं. कभी इन स्कूलों में शिक्षकों की कमी का रोना रोया जाता है तो कभी बिना छत और बिल्डिंग के चल रहे स्कूल की आती हैं. इन खबरों में घटिया मिड

मध्यान्ह भोजन की थाली से दाल गायब…. खीर क्या है बच्चों को पता नहीं ….

वाड्रफनगर( आयुष गुप्ता) ।  बलरामपुर-जिले के वाड्रफनगर विकास खण्ड के ग्राम पंचायत बूढ़ाटांड में प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन  में मिलने वाले  मीनू के अनुसार  खाना ना मिलने पर  एक और जहां पालकों ने आक्रोश जताया है ,  वहीं दूसरी ओर  बच्चों को भी  पोषण आहार पूर्ण रूप से नहीं मिल पा रहा है  ।