मुम्बई।बॉम्बे हाई कोर्ट ने एक पति-पत्नी के बीच शादी के 9 साल बाद तक शारीरिक संबंध नहीं बनने को आधार मानकर उनकी शादी को रद्द कर दिया।महाराष्ट्र के कोल्हापुर के रहने वाले एक विवाहित जोड़ ने शादी की वैद्यता को लेकर 9 सालों तक कानूनी लड़ाई जिस पर बॉम्बे हाई कोर्ट ने आज यह फैसला