RAJBHASHA Archive

मुख्य अतिथि ने जताई खुशी…कहा..बेहतर हो रहा राजभाषा में कामकाज…नये कर्मचारियों को करेंगे प्रशिक्षित

बिलासपुर—-एसईसीएल मुख्यालय बिलासपुर में कम्पनी स्तरीय राजभाषा कार्यान्वयन समिति बैठक हुई।निदेशक (कार्मिक) डाॅ. आर.एस. झा की अध्यक्षता, महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) ए0के0 सक्सेना, मुख्य प्रबंधक (का-प्रशा/जनसंपर्क/राभा) पी0 नरेन्द्र कुमार, विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्षों, क्षेत्रीय कार्मिक प्रमुखों और नोडल अधिकारी की उपस्थिति में कम्पनी स्तरीय राजभाषा कार्यान्वयन समिति की बैठक में राजभाषा में कार्यालयीन कामाकाज की समीक्षा की

राजभाषा समिति की बैठक…रेल मण्डल ने किया कर्मचारियों को सम्मानित….द्विभाषी दस्तावेज तैयार करने पर दिया जोर

बिलासपुर–दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर मंडल की राजभाषा कार्यान्वयन समिति की त्रैमासिक बैठक हुई। मंडल रेल प्रबंधक आर. राजगोपाल की अध्यक्षता और अपर मंडल रेल प्रबंधक एस. एस. लकड़ा की विशिष्ट उपस्थिति में कार्यक्रम को संचालित किया गया। इस दौरान बिलासपुर मंडल की विभिन्न शाखाओं में पिछली तिमाही के दौरान हुई राजभाषा प्रगति की समीक्षा

पंडित जी के सपनों को करेंगे साकार…श्रद्धांजलि देने वालों का लगा तांता…संस्मरण को किया साझा

बिलासपुर— सोमवार को पद्मश्री स्वर्गीय श्यामलाल चतुर्वेदी को श्रद्धांजलि देने छत्तीसगढ़ राज्य लघु एवं सहायक उद्योग संघ के अध्यक्ष हरीश केडिया निवास स्थान पहुंचे। हरीश केडिया ने पंडित श्यामलाल के छाया चित्र पर पुष्प अर्पित कर सजल आंखों से याद किया। उनके योगदान को उपस्थित लोगों के साथ साझा किया।                                       इस दौरान संस्कृति विभाग

हिन्दी आत्माभिमान की भाषा..एकता के साथ अखण्डता का कराती है बोध..झा ने कहा…ज्यादा से ज्यादा करें प्रयोग

बिलासपुर—एसईसीएल मुख्यालय में हिंदी पखवाड़ा का श्रीगणेश किया गया। उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता निदेशक (कार्मिक) डा. आर.एस. झा ने की। इस दौरान विशिष्ट लोगों में निदेशक तकनीकी (संचालन) कुलदीप प्रसाद, मुख्य सतर्कता अधिकारी बी.पी. शर्मा, महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) ए0के0 सक्सेना मौजूद थे। इसके अलावा विभिन्न विभागाध्यक्षों, अधिकारियों-कर्मचारियों, श्रमसंघ प्रतिनिधियों ने भी हिस्सा लिया।   कार्यक्रम की

जब पद्मश्री पंडित श्यामलाल चतुर्वेदी ने कहा राष्ट्रपति जी….छत्तीसगढ़ी को दिलाएं राजभाषा का दर्जा…जीवन की एक-एक सांस और पल को इंतजार

नई दिल्ली(सीजीवाल)— बड़ा पत्रकार वह जो जनहित में मौका मिलते ही बेहतर तरीके से अपनी बातों को ना केवल रखे। बल्कि सामने वाले को अनुकूल जवाब देने को मजबूर भी कर दे। राष्ट्रपति भवन स्थित दरबार हाल में पद्म अलंकरण के दौरान…. छत्तीसगढ़ी राजभाषा आयोग के पहले अध्यक्ष पद्मश्री पंडित श्यामलाल चतुर्वेदी ने….सीजीवालसत्तर साल की