जिला अस्पताल में बनेगा 30 बिस्तर का पोषण केन्द्र….बोले कलेक्टर…करें ब्रांडिंग…नहीं मिलना चाहिए एक भी कुपोषित बच्चा

BHASKAR MISHRA
3 Min Read

बिलासपुर—कलेक्टर अवनीश शरण ने मंथन सभागार में बैठक के दौरान कहा कि समन्वय से काम करें। बच्चों में कुपोषण दूर सभी लोग एक यूनिट की तरह काम करें। विभागवार समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने यह बातें स्वास्थ्य और महिला एवं बाल विकास विभाग के कामकाज की समीक्षा के दौरान कही।। कलेक्टर ने कहा कि कुपोषण का कुचक्र एक बच्चे के संपूर्ण जीवन को तोड़ देता है। इसे दूर करने महिला बाल विकास विभाग एवं स्वास्थ्य विभाग समन्वित प्रयास एवं सहभागिता से कार्य करें। ताकि हमारा जिला कुपोषण मुक्त हो सके।

कलेक्टर अवनीश शरण ने ने महिला एवं बाल विकास और स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में कहा कि जिला अस्पताल के पोषण पुनर्वास केन्द्र को 30 बिस्तर का बनाने प्रस्ताव तैयार किया जाए। आंगनबाड़ी केन्द्रों में कम्यूनिटी किचन गार्डन बनाने को कहा। कुपोषण दूर करने के लिए संबंधित ग्राम पंचायतों की सहयोग लिया जाए।

 कलेक्टर ने उपस्थित अधिकारियों से जिले के नागरिकों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने को कहा। संस्थागत प्रसव की कम दर पर चिंता और असंतोष जाहिर किया। विकसित भारत संकल्प यात्रा शिविर में जांच के दौरान मिल रहे सिकल सेल एनीमिया, बीपी और शुगर के मरीजों को दवा  और पर्याप्त उपचार का भी निर्देश दिया।

कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग के कामकाज की भी समीक्षा किया। संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने के साथ ही प्रचार-प्रसार करने को कहा। मातृ मृत्यु एवं शिशु मृत्यु का अंकेक्षण उचित रूप से करने को कहा। सिकलसेल एनीमिया मिशन उन्मूलन की समीक्षा कर कलेक्टर नेर बताया कि विकसित भारत संकल्प यात्रा शिविर में जांच के दौरान मिल रहे मरीजों को पर्याप्त उपचार मुहैया कराए। टीबी उन्मूलन के लिए कार्ययोजना बनाएं। आयुष्मान आरोग्य मंदिर की ब्रांडिग का काम 22 दिसम्बर तक किसी भई सूरत में पूरा करें।

आंगन बाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं के रिक्त पदों पर जल्द भर्ती का भी कलेक्टर ने निर्देश दिाय। उन्होंने बाल संप्रेक्षण गृह की जानकारी लेते हुएनियमित निरीक्षण का आदेश दिया। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी राजेश शुक्ला, सिविल सर्जन अनिल गुप्ता, डीपीएम प्यूली मजूमदार, महिला एवं बाल विकास अधिकारी डॉ. तारकेश्वर सिन्हा समेत दोनों विभाग के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close