मेरा बिलासपुर

GOLD FRAUD: ख़ुद को पुलिस वाला बताकर सोना ठगी करने वाला आरोपी गिरफ्तार,फाइनेंस कंपनी का मैनेजर भी था ठगी में शामिल

बिलासपुर । ख़ुद को पुलिस कर्मी बताकर लिंक रोड स्थित एटी ज्वेलर्स से करीब़ साढ़े तीन लाख़ की ठगी करने के आरोप में तारबाहर पुलिस ने आरोपी योगेन्द्र अनंत को पामगढ़ से गिरफ़्तार किया है। उसके पास से साढ़े तीन लाख़ रुपए कीमती सोने के जेवर भी बरामद कर लिए गए हैं।

तारबाहर पुलिस के मुताब़िकआरोपी योगेंद्र अनंत निवासी पामगढ़ 9 नवंबर से 24 नवंबर के बीच लगातार तीन बार ऐटी ज्वेलर्स तार बहार बिलासपुर गया । उसने ख़ुद को पुलिस कर्मचारी बताया । जबकि आरोपी योगेंद्र अनंत किसी भी पुलिस बल से नहीं है। आरोपी योगेंद्र अनन्त ने सोने की तीन चैन पसंद कर दुकान से ले लिया और पेमेंट के लिए चेक दिया था। पेमेंट के लिए जो चेक दिया था उसे आहरण नहीं कराने तथा कैस देकर चेक वापस ले जाने की बात कही थी। लेकिन काफी दिनों तक आरोपी नहीं आया और फोन भी उठाना बंद कर दिया था। तब प्रार्थी प्रकाश शर्मा / सत्यनारायण शर्मा उम्र 35 वर्ष निवासी लिंक रोड बिलासपुर की रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना किया जा रही थी।
पुलिस उपमहानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्रीमती पारुल माथुर के निर्देशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर श्री राजेंद्र जयसवाल, नगर पुलिस अधीक्षक श्री संदीप कुमार पटेल के मार्गदर्शन में आरोपी मामले में तारबाहर पुलिस ने आरोपी योगेन्पद्तार अनंत को हिरासत में लेकर पूछताछ की । तब उसने एटी ज्वेलर्स से लिया गया सोना बजाज फिनसर्व फाइनेंस कंपनी के मैनेजर देवेंद्र राजपूत को देना बताया, ।देवेंद्र राजपूत उक्त सोना को ऑक्शन का सोना बताकर अमित गांधी को बेचने का प्रयास कर रहा था और किंतु ऑक्शन पेपर नहीं देने पर अमित ने सोना का सौदा नहीं किया था।

आरोपी योगेंद्र अनंत के पास अन्य दुकानों के बिल मिले हैं और इस बात की भी जानकारी मिली है कि आरोपी स्वयं को भिन्न भिन्न जगहों पर क्राइम ब्रांच का स्टाफ बता कर ठगी किया है । तारबाहर थाना प्रभारी बताकर भी ठगी करने का प्रयास में पेटशॉप से पामेरियन डॉग ले गया था जिसे वापस कराया गया है। इस संबंध में विवेचना की जा रही है।
आरोपी योगेंद्र अनंत और देवेंद्र राजपूत को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा जा रहा है।

बिलासपुरिहा छत्तीसगढी मे बनी फिल्म "तीन ठन भोकवा" 12 दिन मे पूरी,कॉमेडी का एक्सक्लूसिव अंदाज़

आरोपी योगेंद्र अनंत पिता जी.आर.अनंत उम्र 37 वर्ष विनोबा नगर बिलासपुर का रहने वाला है।
उसका स्थाई पता पामगढ़ जिला जांजगीर है । जबकि दूसरा आरोपी देवेंद्र राजपूत पिता जनक सिंह राजपूत उम्र 40 वर्ष पता कतियापारा संतोषी मंदिर के पीछे बिलासपुर का रहने वाला है।


उपरोक्त आरोपियों की गिरफ्तारी व मसूरका की बरामदगी में ACCU बिलासपुर प्रभारी हरविंदर सिंह, थाना प्रभारी तारबाहर मनोज नायक, उप निरी.शांत साहू, सउनि शैलेंद्र सिंह, पुहुप, बलबीर, निखिल, बोधुराम का योगदान रहा ।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS